Kushinagar News: डबल मर्डर से सनसनी, पति और पत्नी की गला रेतकर हत्या, मर्डर के मामले में गवाह था मृतक

डबल मर्डर के बाद मौके पर पहुंची पुलिस
डबल मर्डर के बाद मौके पर पहुंची पुलिस

Kushinagar News: ग्रामीणों का आरोप था कि मृतक को कई बार जान से मारने कि धमकी दी गई थी, लेकिन पुलिस ने बदमाशों पर कोई कार्यवाई नहीं की, जिसके कारण उसने इस घटना को अंजाम दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 3:08 PM IST
  • Share this:
कुशीनगर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कुशीनगर (Kushinagar) के तरया सुजान थानाक्षेत्र के परसौनी बुजुर्ग गांव के सियरहा टोला में सोमवार रात सोते समय दंपति की गला रेत कर हत्या (Murder) कर दी गई. चीख सुनकर मां-बाप को बचाने पहुंची बेटी को हमलावर ने हंसिये से वार कर उसे भी घायल कर दिया. हत्या करने बाद हत्यारोपी मौके से फरार हो गया. घटना के बाद बड़ी संख्या में स्थानीय लोग जमा हो गए और पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने लगे. ग्रामीणों का आरोप था कि मृतक को कई बार जान से मारने कि धमकी दी गई थी, लेकिन पुलिस ने बदमाशों पर कोई कार्यवाई नहीं की, जिसके कारण उसने इस घटना को अंजाम दिया. भीड़ शव को ले जाने नहीं दे रही थी, जिसके बाद एडिश्नल एसपी के समझाने पर लोग शांत हुए तब जाकर लोगों ने शव को ले जाने दिया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. परिजनों के अनुसार गांंव के ही रमाशंकर राजभर ने दंपति की हत्या की है. रमाशंकर अपराधी है. मारे गए बुधन दो-तीन मुकदमोंं में उसके खिलाफ गवाह थेे.

हत्या के मामले में गवाह था मृतक

हत्या के मामले में गवाही देने वाले व्यक्ति और उसकी पत्नी का बदमाश ने गला रेतकर मौत के घाट उतार दिया. अपने मां-बाप को बचाने आई किशोरी को भी बदमाश ने घायल कर दिया. हत्या करने के बाद बदमाश फरार हो गया. सोमवार देर रात परसौनी बुजुर्ग टोला सियरहा निवासी बुधन राजभर ( उम्र 50 वर्ष) और उनकी पत्नी सनकेशिया (उम्र 47वर्ष) खाना खाने के बाद घर के दरवाजे के सामने सो रहे थे. रात में गांंव का रहने वाला रामशंकर राजभर पहुंंचा और बुधन के गले पर धारदार हथियार से वार कर दिया. बुधन को बचाने के लिए जब पत्नी सनकेशिया बीच मेंं आईं तो आरोपी ने उनके ग़ले पर भी हंसिए से वार किया. जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई. मां-बाप की चीख-पुकार सुनकर बीच बचाव करने आई बेटी सावित्री पर भी आरोपी ने हंंसिये वार कर दिया, जिससे वह भी घायल हो गई. दोनों की हत्या करने के बाद रमाशंकर मौके से फरार हो गया.



पुलिस से बताया था जान का खतरा
घटना की जानकारी होते ही मौके बड़ी संख्या में स्थानीय लोग एकत्र हो गए. लोग पुलिस पर तमाम आरोप लगा कर विरोध प्रदर्शन करने लगे. ग्रामीणों का आरोप है कि पूर्व में भी रमाशंकर पर हत्या सहित कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. कई मुकदमों में बुधन गवाह है जिसके कारण वह कई बार बुधन को मारने की धमकी दे चुका था. कुछ दिन पूर्व ग्रामीणों ने लिखित तहरीर देकर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. लेकिन सोमवार को पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर कुछ देर रखने के बाद छोड़ दिया. छूट कर आने के बाद आरोपी ने घटना को अंजाम दे दिया. घटना की सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी एपी सिंह की अगुवाई में सीओ तमकुहीराज और सात थानों की पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेने का प्रयास करने लगी. काफी जद्दोजहद के बाद पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज सकी. दोहरे हत्याकांड के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है. गांंव मे तनाव की स्थिति को देखते हुए कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज