Home /News /uttar-pradesh /

sister died in road accident before rakshabandhan festival in kushinagar brother injured upns

'अग्निवीर' बनने की चाहत, रक्षांबधन से पहले बहन की मौत से मचा कोहराम, भाई की हालत नाजुक

Kushinagar News: सपना ने आगामी सेना भर्ती के फार्म भी भरा था जिसकी तैयारी जोर शोर से कर रही थी. (File photo)

Kushinagar News: सपना ने आगामी सेना भर्ती के फार्म भी भरा था जिसकी तैयारी जोर शोर से कर रही थी. (File photo)

Kushinagar News: रामकोला थाने के प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार राय ने बताया की घटना के बाद पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया जहां चिकित्सकों ने सपना को मृत घोषित कर दिया. जिसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया गया है. राय के मुताबिक अज्ञात वाहन के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

रामकोला में भीषण सड़क हादसा
बहन की मौत, भाई गोखपुर रेफर

कुशीनगर. कुशीनगर के रामकोला में ‘अग्निवीर’ बनने की तैयारी कर रहे भाई- बहन को सड़क पर दौड़ लगाते समय अज्ञात वाहन ने ठोकर मार दिया. घटना में बहन की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई जबकि भाई गंभीर रूप से घायल हो गया. गंभीर रूप घायल भाई को जिला अस्पताल से गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है. घटना के बाद पूरे इलाके में शोक की लहर फैल गई है. परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. मौके पर पहुंची पुलिस ने मृकता का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है.

मिली जानकारी के अनुसार, रामकोला थाने के पिडरी गांव निवासी सुनील के चार बच्चों में तीसरे नंबर की सपना और चौथे नंबर का लड़का किशन सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे थे. दोनों सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहते थे लेकिन उन्हें नहीं पता था की नियति को कुछ और मंजूर है. रोज सुबह 4 बजे दोनों साथ ही साथ रामकोला -पडरौना मार्ग पर दौड़ लगाते थे. सपना ने आगामी सेना भर्ती के फार्म भी भरा था जिसकी तैयारी जोर शोर से कर रही थी. इसी बीच पडरौना- रामकोला मार्ग पर मेंहदीगंज और धर्मसमदा के बीच अज्ञात वाहन दोनों को ठोकर मरते हुए निकल गया. चीख पुकार सुनकर सड़क पर टहल रहे लोग मौके पर पहुंचे. लोगों ने एंबुलेंस की मदद से दोनों भाई बहन को रामकोला सीएचसी में भर्ती कराया.

महंत नरेंद्र गिरि खुदकुशी मामले में आया नया मोड़, अमर गिरी ने कहा- नहीं लड़ना मुकदमा, जानें पूरा माजरा

जहां चिकित्सकों ने सपना को मृत घोषित कर दिया और गंभीर रूप से घायल किशन को जिला अस्पताल से गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया. मृतक सपना के परिजनों का कहना था की शुरू से ही वह सेना में भर्ती होना चाहती थी इसके लिए अपने भाई के साथ फिजिकल तैयारी करती थी, लेकिन उसका सपना पूरा नहीं हो सका. रामकोला थाने के प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार राय ने बताया की घटना के बाद पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया जहां चिकित्सकों ने सपना को मृत घोषित कर दिया. जिसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया गया है. राय के मुताबिक अज्ञात वाहन के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

Tags: Kushinagar news, Rakshabandhan festival, Road accident, UP news, UP police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर