Home /News /uttar-pradesh /

Kushinagar: अंधविश्वास में गई मासूम की जान, भूत उतारने के नाम पर तांत्रिकों ने बुरी तरह से की थी पिटाई 

Kushinagar: अंधविश्वास में गई मासूम की जान, भूत उतारने के नाम पर तांत्रिकों ने बुरी तरह से की थी पिटाई 

Kushinagar: तांत्रिकों को पिटाई से मासूम की मौत

Kushinagar: तांत्रिकों को पिटाई से मासूम की मौत

Kushinagar News: पडरौना कोतवाली के जरार गांव के रहने वाले ओम प्रकाश राजभर के 4 वर्षीय मानसून नीतीश कई दिनों से बुखार और उल्टी दस्त से पीड़ित था. परिजन किसी झोलाछाप डॉक्टर से इलाज भी करा रहे थे, लेकिन तबीयत में कोई सुधार नहीं हो रहा था.

अधिक पढ़ें ...

कुशीनगर. यूपी के कुशीनगर (Kushinagar) जनपद के पडरौना कोतवाली क्षेत्र के जरार गांव में तांत्रिकों ने भूत उतारने के नाम पर एक मासूम को इतना मारा की उसकी मौत हो गई. प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बीमार चल रहे बच्चे को ठीक करने के नाम पर तांत्रिकों ने मासूम के चेहरे पर जूतों से मारा. इतना ही नहीं मासूम के मुंह में जूता ठूंस दिया, जिससे तड़प-तड़प कर मासूम बच्चे की जान निकल गई. बेहद गरीबी में जी रहे इस परिवार की मुसीबतें यहीं कम नहीं हुई. इधर 4 वर्षीय मासूम बेटे की मौत हुई तो वहीं दूसरी ओर इलाज के अभाव में बेटी की भी मौत हो गई. एक साथ दो बच्चों की मौत से परिवार पर विपत्ति का पहाड़ टूट पड़ा. बेहद मुफलिसी में जी रहे इस परिवार के कफन के पैसे नहीं थे, जिसके बाद ग्रामीणों ने चंदा लगाकर दोनों का अंतिम संस्कार कराया.

पडरौना कोतवाली के जरार गांव के रहने वाले ओम प्रकाश राजभर के 4 वर्षीय मानसून नीतीश कई दिनों से बुखार और उल्टी दस्त से पीड़ित था. परिजन किसी झोलाछाप डॉक्टर से इलाज भी करा रहे थे, लेकिन तबीयत में कोई सुधार नहीं हो रहा था. बच्चे की तबीयत बिगड़ने लगी तो परिजन परेशान हो गए. जिसके बाद गांव की एक महिला ने झाड़-फूंक करके बच्चे को ठीक करने का दावा किया। महिला का दावा सुनकर घरवाले झांसे में आ गए. इसके बाद महिला बिहार से एक तांत्रिक दंपति को बुलाया और झाड़-फूंक कराना शुरू कर दिया. झाड़ फूंक के दौरान बच्चे की हालत गंभीर होती गई लेकिन उसे डॉक्टर के पास ले जाने के बजाय कई घंटे तक झाड़ फूंक करते रहे. भूत उतारने के नाम पर मासूम बच्चे को जूतों से पीटा गया और उसके मुंह में जूता ठूंसा गया. जिस कारण मासूम बच्चे ने दम तोड़ दिया.

दो महिलाएं गिरफ्तार
मासूम बच्चे की मौत के बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दो  महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया जबकि तांत्रिक मौके से फरार हो गया. पडरौना कोतवाल के प्रभारी निरीक्षक निर्भय सिंह ने बताया की दो महिलाओं को पुलिस हिरासत में लिया गया है अभी तक पीड़ित की तरफ से कोई तहरीर नहीं मिली है. तहरीर मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी. परिजनों के अनुसार मासूम बच्चे को ठीक करने के नाम पर तांत्रिक ने काफी देर तक उसे जमीन पर लिटाए रखा और बच्चे को ठीक करने के नाम पर मुंह पर जूता रगड़ा. इतना ही नहीं तांत्रिक ने बच्चे के मुंह के अंदर जूता भी डाला जिसके बाद बच्चा तड़प-तड़प कर मर गया.

Tags: Kushinagar news, UP news, Up news in hindi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर