Home /News /uttar-pradesh /

लखीमपुर हिंसा केस: 3 किसान किए गए रिहा, BJP कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या का था आरोप

लखीमपुर हिंसा केस: 3 किसान किए गए रिहा, BJP कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या का था आरोप

लखीमपुर हिंसा मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी ने तीन आरोपियों अवतार सिंह, रंजीत सिंह और सोनू उर्फ कमलजीत सिंह को सबूत के अभाव में जेल से रिहा करने को कहा था.

लखीमपुर हिंसा मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी ने तीन आरोपियों अवतार सिंह, रंजीत सिंह और सोनू उर्फ कमलजीत सिंह को सबूत के अभाव में जेल से रिहा करने को कहा था.

उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित लखीमपुर हिंसा मामले (Lakhimpur Kheri case) में बीजेपी कार्यकर्ताओं (BJP Workers Lynching) की पीट-पीटकर हत्या किए जाने के मामले में गिरफ्तार तीन आरोपियों को बीती रात जेल से रिहा कर दिया गया. एसआईटी (Lakhimpur Kheri SIT) ने इस मामले में अब तक गिरफ्तार सात आरोपियों में से चार के खिलाफ शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में करीब 1300 पन्नो की चार्जशीट दाखिल की, जबकि तीन आरोपियों के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं मिला, जिसके बाद उन्हें जेल से रिहा किया गया.

अधिक पढ़ें ...

लखीमपुर खीरी. उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित लखीमपुर हिंसा मामले (Lakhimpur Kheri case) में बीजेपी कार्यकर्ताओं (BJP Workers Lynching) की पीट-पीटकर हत्या किए जाने के मामले में गिरफ्तार तीन आरोपियों को बीती रात जेल से रिहा कर दिया गया. एसआईटी (Lakhimpur Kheri SIT) ने इस मामले में अब तक गिरफ्तार सात आरोपियों में से चार के खिलाफ शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में करीब 1300 पन्नो की चार्जशीट दाखिल की, जबकि तीन आरोपियों के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं मिला, जिसके बाद उन्हें जेल से रिहा किया गया.

लखीमपुर हिंसा के मामले में बीजेपी कार्यकर्ता सुमित जायसवाल की तहरीर पर दर्ज कराए गए क्रॉस केस में एसआईटी ने शुक्रवार को सीजीएम कोर्ट में अपनी चार्जशीट दाखिल की. तिकुनिया हिंसा के मामले में तिकुनिया थाने में दर्ज 220/21 एफआईआर के आधार पर एसआईटी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारते-पीटते किसानों के सीसीटीवी फुटेज और फोटोग्राफ जारी किए थे, जिनके आधार पर एसआईटी ने अब तक सात आरोपियों गुरविंदर सिंह, विचित्र सिंह, कमलजीत, गुरप्रीत, अवतार सिंह, रंजीत सिंह और सोनू उर्फ कमलजीत सिंह को गिरफ्तार किया था.

ये भी पढ़ें- नोएडा का यह प्रत्याशी है सबसे अमीर, जानें किसके पास है कितनी संपत्ति

एसआईटी द्वारा सीजीएम कोर्ट में दाखिल की गई चार्जशीट में सातों आरोपियों में गुरविंदर सिंह, विचित्र सिंह, कमलजीत, गुरप्रीत पर मुकदमा चलाने की बात कही गई है, जबकि तीन आरोपियों अवतार सिंह, रंजीत सिंह और सोनू उर्फ कमलजीत सिंह को सबूत के अभाव में जेल से रिहा करने को कहा था.

ये भी पढ़ें- जब हस्तिनापुर की कांग्रेस प्रत्याशी बिकिनी गर्ल का दिखा साड़ी अवतार

लखीमपुर खीरी जिले के अभियोजन अधिकारी एसपी यादव ने बताया कि 220/21 (तिकुनिया हिंसा केस) में चार्जशीट दाखिल की गई है, जिसमें चार अभियुक्त गुरविंदर सिंह, विचित्र सिंह, कमलजीत और गुरप्रीत को आरोपित किया गया है. विवेचक श्याम कुमार पाल ने चार्जशीट दाखिल की है. तीन अभियुक्त अवतार सिंह रंजीत सिंह और सोनू उर्फ कमलजीत सिंह को साक्ष्य के अभाव में जेल से रिहा किया जा रहा है.

जेल से रिहा होकर बाहर निकले रंजीत सिंह और अवतार सिंह ने बताया कि उन्हें एसआईटी की जांच पर पूरा भरोसा है और एसआईटी ने उनके साथ न्याय किया है. उन्होंने कहा, ‘एसआईटी को जो तस्वीरें मिली थी, जिसमें वह लोग मौके पर दूर खड़े जरूर थे, लेकिन उनका इस घटना में कोई रोल नहीं था.’

Tags: Farmer Protest, Lakhimpur Kheri case, UP news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर