नदी से निकल आंगन में धूप सेंक रहा था मगरमच्छ, घरवालों ने देखा तो छूटे पसीने

लखीमपुर खीरी के मुन्ना पुरवा गांव के एक घर में पहुंचा मगरमच्छ.

लखीमपुर खीरी के मुन्ना पुरवा गांव के एक घर में पहुंचा मगरमच्छ.

Crocodile in courtyard: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के मुन्ना पुरवा गांव में मगरमच्छ के आने से मचा हड़कंप. गांव के पास बहने वाली शारदा नदी से निकलकर यह जानवर घर के आंगन तक पहुंच गया था. विन विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद रेस्क्यू कर वापस नदी में छोड़ा.

  • Share this:

मनोज शर्मा

लखीमपुर खीरी. पानी में रहने वाला खतरनाक जानवर मगरमच्छ अगर अचानक आपके सामने दिख जाए, तो...! कुछ ऐसा ही वाकया उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के एक गांव में हुआ, जब एक घर के आंगन में मगरमच्छ आराम करता हुआ दिखा. गांव के पास ही बहने वाली नदी से निकलकर यह मगरमच्छ आंगन तक पहुंच गया था. खतरनाक जानवर पर जब घरवालों की नजर पड़ी तो उनके होश उड़ गए. फौरन ही सभी लोग घर से भागकर बाहर निकल आए और देखते ही देखते गांव में मगरमच्छ की खबर फैल गई.

वाकया लखीमपुर खीरी के निघासन कोतवाली के मुन्ना पुरवा गांव का है, जहां शारदा नदी से निकलकर एक विशालकाय मगरमच्छ ग्रामीण रामदीन के घर पहुंच गया. रामदीन के परिजनों ने जब घर के आंगन में मगरमच्छ को आराम करते देखा तो उनके होश गुम हो गए. लोगों की समझ में ही नहीं आया कि मगरमच्छ आंगन तक कैसे पहुंच गया. खतरनाक जानवर को सामने देख घर के लोग चीखने-चिल्लाने लगे. सभी भागकर घर के बाहर आ गए और तब गांव के अन्य लोगों को भी यह खबर मिली.

मगरमच्छ को देखने के लिए रामदीन के घर के बाहर भीड़ जमा हो गई. ग्रामीणों ने बताया कि यह मगरमच्छ शारदा नदी से निकलकर यहां तक आ पहुंचा था. इसी दौरान किसी ने वन विभाग को भी सूचना दे दी, जिसके कुछ देर बाद विभागीय टीम रामदीन के घर पर पहुंची. वन विभाग के कर्मियों ने बताया कि गांव के पास ही शारदा नदी बहती है, संभवतः यह मगरमच्छ वहीं से आया था. वन विभाग की टीम ने एक घंटे की मशक्कत के बाद मगरमच्छ को घर के आंगन से निकालकर वापस नदी में छोड़ दिया.
इधर, मुन्ना पुरवा गांव के लोगों ने बताया कि यह इलाका जंगल और नदियों से घिरा हुआ है. इसलिए कई बार खतरनाक जानवर गांव में चले आते हैं. मगरमच्छ के गांव में आने को लेकर गांव वालों ने कहा कि पहले भी ऐसी घटनाएं होती रही हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज