Home /News /uttar-pradesh /

लखीमपुर हिंसा में मारे गए पत्रकार के पिता की तहरीर में इस सपा नेता का नाम, जानें क्या लगे हैं आरोप

लखीमपुर हिंसा में मारे गए पत्रकार के पिता की तहरीर में इस सपा नेता का नाम, जानें क्या लगे हैं आरोप

लखीमपुर मामले में मारे गए पत्रकार के पिता की तहरीर में तेजिंदर सिंह विर्क का नाम. (फाइल फोटो)

लखीमपुर मामले में मारे गए पत्रकार के पिता की तहरीर में तेजिंदर सिंह विर्क का नाम. (फाइल फोटो)

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर हिंसा मामले में मारे जाने वाले शुभम मिश्रा के पिता ने पुलिस को लिखित शिकायत दी है. उन्होंने अपनी तहरीर में तेजिंदर सिंह विर्क का नाम लिया है, जिसका लिंक समाजवादी पार्टी से जुड़ा है.

रुद्रपुर. लखीमपुर हिंसा मामले में मारे जाने वाले शुभम मिश्रा (Shubham Mishra) के परिवार ने पुलिस को लिखित शिकायत दी है. उन्होंने अपनी शिकायत में तेजिंदर सिंह विर्क का नाम लिया है, जिसका लिंक समाजवादी पार्टी से जुड़ा है. मृतक शुभम मिश्रा के पिता ने पुलिस को दी गई तहरीर में तेजिंदर समेत अन्य प्रदर्शनकारियों के नाम लिखे हैं.

कोतवाली तिकुनिया में दी गई तहरीर में विजय मिश्रा ने बताया है कि 3 अक्टूबर को मेरा पुत्र शुभम मिश्रा कुश्ती प्रतियोगिता में शामिल होने ग्राम बनवीरपुर थाना कोतवाली तिकुनिया जिला खीरी गया हुआ था. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि का स्वागत व रिसीव करने समय करीब 3:00 बजे शाम में मेरा पुत्र गाड़ी नंबर यूपी 31 एएस 1000 महिंद्रा थार से गया था. हरिओम मिश्रा गाड़ी ड्राइव कर रहे थे. उसी दौरान कार्यक्रम स्थल से लगभग 3 किलोमीटर आगे तिकुनिया तिराहे पर धरना प्रदर्शन कर रहे कुछ अराजक तत्वों ने पथराव कर दिया.

आरोप है कि घटना के समय लव कुश पुत्र रामकिशोर निवासी बनवीरपुर थाना तिकुनिया, आशीष पांडे पुत्र रामगोपाल पांडे दंगल देखने जा रहे थे. तहरीर में आरोप है कि उन्होंने मौके पर देखा कि अमनदीप सिंह सिंधु, महेंद्र सिंह व तेजिंदर सिंह विर्क व तमाम अज्ञात लोग मेरे पुत्र शुभम मिश्रा व हरिओम मिश्रा को तलवार व लाठियों से मार रहे थे. पथराव में उन्हें भी चोटें आई हैं. विजय मिश्रा का आरोप है कि तलवार व लाठियों से मारने से मेरे पुत्र शुभम मिश्रा व हरिओम मिश्रा ड्राइवर की मृत्यु हो गई है. क्षेत्र में भय का माहौल व्याप्त हो गया है. लोग जान बचाने इधर-उधर भागने लगे. इस घटना में मेरे पुत्र शुभम की पर्स, मोबाइल और एक सोने की चेन गायब है. इस घटना की सूचना मुझे लव कुश और आशीष से प्राप्त हुई. उन्होंने तहरीर के अंत में लिखा कि वह पुत्र का दाह संस्कार करने के बाद सूचना देने आए हैं.

जानिए कौन है तेजिंदर सिंह विर्क

पेशे से किसान सरदार तेजिंदर सिंह विर्क उत्तराखंड के सिख बहुल तराई में जाना पहचाना नाम है. समाजवादी पार्टी से जुड़े वर्क उधम सिंह नगर जिले के सपा जिला अध्यक्ष रह चुके हैं और इससे पहले वह पार्टी के उत्तराखंड प्रदेश सचिव भी रहे. पिछले साल किसान आंदोलन की शुरुआत के साथ ही विर्क पार्टी के कामों के साथ किसान आंदोलन में भागीदारी कर रहे हैं. समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ एसएन सचान बताते हैं- विर्क सपा में बहुत एक्टिव रहे हैं. 2018 में जब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रुद्रपुर आए थे तब उन्होंने अपना समय विर्क के साथ ही बिताया. उन्होंने बताया कि तराई किसान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजिंदर सिंह विर्क रविवार को लखीमपुर खीरी में ही थे.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर