लखीमपुर की महिला ने CM योगी से लगाई गुहार, पैसों के लिए देह व्यापार से लेकर निकाह और बेचने की दास्तान सुनाई

लखीमपुर खीरी की मुस्लिम महिला ने सीएम योगी से लगाई न्याय की गुहार

लखीमपुर खीरी की मुस्लिम महिला ने सीएम योगी से लगाई न्याय की गुहार

Lakhimpur News: पुलिस से शिकायत करने से नाराज आरोपियों ने उसका अपहरण कर एक अंधेरे कमरे में ले जाकर रखा. वहां लगातार 10 दिन तक 5 लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

  • Share this:
लखीमपुर खीरी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर (Lakhimpur Kheri) की एक मुस्लिम महिला ने मुख्यमंत्री (CM Yogi Adityanath) से न्याय की गुहार लगाई है और अपनी दर्द भरी दास्तां सुनायी ही जिसे सुनकर किसी के भी रौंगटे खड़े हो जाएं. महिला का आरोप है की उसे 14 साल की उम्र से लगातार 4 साल तक पैसे के लिए अपनों ने शरीर बेचने के लिए मजबूर किया. फिर पैसा लेकर एक उम्रदराज के हाथों निकाह करवा दिया. अब उसके पति ने भी मन भर जाने के बाद उसे दूसरे युवक को बेच दिया। मामले में पुलिस से शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. महिला को अब मुख्यमंत्री से ही न्याय की उम्मीद है.

, मामला लखीमपुर खीरी के फूलपुर थाना क्षेत्र की एक मुस्लिम महिला का है. महिला का कहना है कि बचपन में उसके पिता की मौत हो गई थी. उसके बाद उसकी मां ने दूसरा निकाह कर लिया और उसको उनकी खाला के पास छोड़ दिया. उसकी खाला बचपन से ही उसके साथ जुल्म सितम करती थी. आए दिन मारपीट करती थी, जब वह 14 साल की हो गई तो उसे अच्छे कपड़े पहनाकर पैसा लेकर गैर मर्दों के साथ जाने के लिए मजबूर करती थी. चार साल के बाद खाला ने गांव के प्रधान जबीउल्ला से साठ-गांठ कर उम्रदराज हसीब से पैसा लेकर निकाह करवा दिया. हसीब ने उसे 6 साल अपने साथ रखा. उसके दो बच्चे हैं. अब उसके पति हसीब ने भी पैसा लेकर किसी दूसरे युवक के हाथों उसका सौदा कर दिया.

Youtube Video


पुलिस से शिकायत करने पर आरोपियों ने अपहरण कर किया गैंगरेप
जब उसको इस बात की जानकारी हुई तो उसने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. लेकिन पुलिस इंस्पेक्टर ने उसकी सुनवाई न करते हुए और आरोपियों को सही साबित करते हुए उसके मामले को खारिज कर दिया. इस बात से आरोपियों का हौसला और बुलंद हो गया. आरोपियों ने उसका अपहरण कर एक अंधेरे कमरे में ले जाकर रखा. वहां लगातार 10 दिनों तक 5 लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. किसी तरीके से मौका देखकर वह उनके चुंगल से निकली और लखनऊ जाकर महिला आयोग से इस बात की शिकायत दर्ज कराई, लेकिन अब वह लगातार जिले के पुलिस के आला अधिकारियों के चक्कर लगा रही है, लेकिन न ही उसका मेडिकल कराया जा रहा है और न ही कोई सुनवाई हो रही.

अधिकारियों ने साधी चुप्पी

पीड़िता का कहना है पुलिस से उसे न ही न्याय मिल रहा है और अब न कोई उम्मीद है, क्योंकि आरोपी लोग काफी पैसे वाले और दबंग है. पैसा देकर उसकी आवाज दबा दे रहे हैं. अब उसे केवल प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से ही आस है कि वह उसे न्याय दिलाएंगे. उसका कहना है कि मुख्यमंत्री योगी ने बहुत सी मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाया है, वो ही उसके साथ हो रहे अन्याय से उसको निजात दिलाएंगे. इस मामले में जब पुलिस के आला अधिकारियों से पूछा गया तो उन्होंने कैमरे के सामने साफ तौर से बोलने से इंकार कर दिया उनका कहना है मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे. (रिपोर्ट: मनोज शर्मा)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज