Home /News /uttar-pradesh /

Lakhimpur Kheri Violence : 'किसानों को न्‍याय कब मिल पाएगा, आरोपी कब तक गिरफ्तार होंगे?' चंद्रशेखर आजाद का पीएम से सवाल

Lakhimpur Kheri Violence : 'किसानों को न्‍याय कब मिल पाएगा, आरोपी कब तक गिरफ्तार होंगे?' चंद्रशेखर आजाद का पीएम से सवाल

भीम आर्मी चीफ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के आजादी का अमृत महोत्‍सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) मनाने पर सवाल खड़े किए.

भीम आर्मी चीफ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के आजादी का अमृत महोत्‍सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) मनाने पर सवाल खड़े किए.

Lakhimpur Kheri Violence : भीम आर्मी चीफ ने पीएम मोदी से सवाल पूछते हुए कहा कि लखनऊ से कुछ ही दूर पर लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) है. क्‍या देश के प्रधानमंत्री शहीद किसान परिवारों के सामने बैठकर, आंख में आंख मिलाकर, कोई जवाब दे पाएंगे कि उनको न्‍याय कब मिल पाएगा. आरोपियों की गिरफ्तारी कब होगी?

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली : उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Violence) में किसानों के साथ हुई हिंसा मामले को लेकर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) ने लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के आजादी का अमृत महोत्‍सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) मनाने पर सवाल खड़े किए हैं साथ ही उनसे कई सवाल पूछे हैं. उन्‍होंने पीएम से सवाल किया कि ‘क्‍या देश के प्रधानमंत्री शहीद किसान परिवारों के सामने बैठकर, आंख में आंख मिलाकर, कोई जवाब दे पाएंगे कि उनको न्‍याय कब मिल पाएगा. आरोपियों की गिरफ्तारी कब होगी?’

चंद्रशेखर आजाद ने एक वीडियो जारी कर कहा कि हम ‘आज दिल्‍ली में हैं, क्‍योंकि उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में देश के प्रधानमंत्री को आजादी का अमृत महोत्‍सव बनाना है, लेकिन मैं देश के प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं कि उत्‍तर प्रदेश में तो किसानों की चिताएं जल रही हैं. किसानों के घरों में मातम है. शहीद किसानों के परिवार चीख रहे हैं. उत्‍तर प्रदेश में ना तो किसान, ना महिलाएं, ना नौजवान, ना व्‍यापारी और ना ही विपक्ष आजाद है. तो आप किसकी आजादी का जश्‍न मना रहे हैं?’

उन्‍होंने पीएम मोदी से सवाल पूछते हुए कहा कि लखनऊ से कुछ ही दूर पर लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) है. क्‍या देश के प्रधानमंत्री शहीद किसान परिवारों के सामने बैठकर, आंख में आंख मिलाकर, कोई जवाब दे पाएंगे कि उनको न्‍याय कब मिल पाएगा. आरोपियों की गिरफ्तारी कब होगी?

आजाद समाज पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) ने आरोप लगाते हुए कहा कि मुझे लगता है कि ‘ये जश्‍न देश की आजादी का नहीं, भारतीय जनता पार्टी की आजादी का है कि उनके नेता, मंत्री किसानों की हत्‍या करेंगे और आरोपी आजाद रहेंगे. किसानों और विपक्ष को बंधक बनाया जाएगा. प्रधानमंत्री जी, जनता आपको माफ नहीं करेगी. आप किसान विरोधी तीनों कानूनों को समाप्‍त कीजिए’.

इससे पहले चंद्रशेखर लखीमपुर में घटनास्‍थल पर पहुंचे थे, जहां मृत किसानों के पार्थिव शरीर रखे हुए थे. उन्‍होंने वहां किसानों के परिवारों से मिलकर उन्‍हें सांत्‍वना दी. साथ ही उन्‍होंने कहा कि देश के अन्नदाताओं की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी. शहीद किसानों को नम आंखों से नमन. इतिहास गवाह है कि शहादतें क्रांति को जन्म देती हैं. तानाशाही भाजपा सरकार का अंहकार भी जल्द ही टूटेगा. किसान मजदूर एकता जिंदाबाद.

Tags: Chandrashekhar Azad, Lakhimpur kheri violence

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर