Home /News /uttar-pradesh /

Lakhimpur Tikuniya violence: आशीष मिश्रा की जमानत अर्जी खारिज, रहेगा अभी जेल में

Lakhimpur Tikuniya violence: आशीष मिश्रा की जमानत अर्जी खारिज, रहेगा अभी जेल में

जिला जज ने खारिज की आशीष मिश्रा की जमानत अर्जी-फाइल फोटो

जिला जज ने खारिज की आशीष मिश्रा की जमानत अर्जी-फाइल फोटो

Ashish Mishra Bail Application Rejected: चार किसानों समेत 8 लोगों की मौत के बहुचर्चित हिंसा मामले में गिरफ्तार केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को अदालत से झटका लगा है. जिला जज मुकेश मिश्र ने लखीमपुर-तिकुनिया हिंसा का मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा, आशीष पांडे की जमानत अर्जी को ख़ारिज कर दिया. दिन में दो घंटे तक दोनों पक्षों ने बहस के दौरान कई तर्क रखे. इसे सुनने के बाद अदालत ने शाम को जमानत अर्जी खारिज करने का फैसला सुनाया.

अधिक पढ़ें ...

    लखीमपुर खीरी. चार किसानों समेत 8 लोगों की मौत के बहुचर्चित हिंसा मामले में गिरफ्तार केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा (Union Minister Ajay Mishra) के बेटे आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) को कोर्ट से झटका लगा है. जिला जज मुकेश मिश्र ने लखीमपुर-तिकुनिया हिंसा मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा, आशीष पांडे की जमानत अर्जी ख़ारिज कर दी. दिन में दो घंटे तक बहस सुनने के बाद अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया था. शाम को केस डायरी, अभियोजन की ओर से पेश किए गए साक्ष्य देखने के बाद जमानत याचिका खारिज करने का फैसला सुना दिया गया.

    बीते तीन अक्‍टूबर को लखीमपुर खीरी में हिंसक झड़प में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. घटना के बाद इस कई वीडियो सामने आए थे, जिसके बाद पूरे देश में यह मामला चर्चा में रहा. वीडियो में एक थार जीप कुछ किसानों को रौंदते हुए दिख रही थी. थार जीप मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा की थी. इसके बाद किसानों ने आशीष मिश्रा को इस घटना का मुख्‍य आरोपी बनाया था. मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने आशीष मिश्रा, आशीष पांडेय और लवकुश राना समेत कुछ अन्‍य लोगों को गिरफ्तार किया था.

    इन्हें भी पढ़ें :
    Purvanchal Expressway Inauguration: 5 फाइटर जेट्स के साथ भव्य एयर शो की तैयारी, आसमान में लहराएगा तिरंगा
    कंगना पर भड़का किन्नर अखाड़ा, कहा- देश की आजादी का श्रेय 2014 में बनी सरकार को कैसे दिया

    पुलिस ने इस मामले की रिपोर्ट कोर्ट में पेश की. इसके साथ बैलिस्टिक रिपोर्ट भी पेश की गई. बचाव पक्ष की ओर से जमानत दिए जाने को लेकर अदालत के सामने कई तर्क रखे गए. अभियोजन पक्ष की ओर से जिला शासकीय अधिवक्‍ता अरविंद त्रिपाठी ने अपना पक्ष रखा.

    खेलें यूपी क्विज

    कोर्ट में करीब दो घंटे तक बहस चलती रही. इसके बाद जिला जज ने दोनों तरफ की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया. शाम को आरोपियों की जमानत अर्जी को खारिज कर दिया गया.

    Tags: Ashish Mishra Bail Application Rejected, Lakhimpur Kheri News, Lakhimpur Tikuniya Violence Case, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर