Home /News /uttar-pradesh /

Lakhimpur Violence: तिकुनिया पहुंचे टिकैत की चेतावनी, कहा- अजय मिश्रा का इस्तीफा नहीं तो यहीं से आंदोलन

Lakhimpur Violence: तिकुनिया पहुंचे टिकैत की चेतावनी, कहा- अजय मिश्रा का इस्तीफा नहीं तो यहीं से आंदोलन

राकेश टिकैत ने इस दौरान बताया कि लखनऊ में बड़ी पंचायत का आयोजन किया जाएगा.

राकेश टिकैत ने इस दौरान बताया कि लखनऊ में बड़ी पंचायत का आयोजन किया जाएगा.

Lakhimpur case: किसानों की अंतिम अरदास में तिकुनिया पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि लखनऊ में बड़ी पंचायत की जाएगी. साथ ही उन्होंने बताया कि किसानों की अस्थियों का कलश देश भर के जिलों में ले जाया जाएगा जहां पर लोग उन्हें श्रद्धांजलि देंगे.

अधिक पढ़ें ...

    लखीमपुर. लखीमपुर में हिंसा के दौरान मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में तिकुनिया पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने एक बार फिर आंदोलन करने की चेतावनी दे दी. अब उन्होंने कहा कि यदि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री का इस्तीफा नहीं होता है तो वे यहीं से आंदोलन की घोषणा करेंगे. उन्होंने कहा कि लखनऊ में एक बड़ी पंचायत की जाएगी. उसके बाद किसानों के अस्थि कलश देश के हर जिले में जांएगे और लोग उन्हें श्रद्धांजलि देंगे. राकेश टिकैत ने बताया कि 24 अक्टूबर को अस्थियां प्रवाहित की जाएंगी. इसके बाद सभी लोग 26 को लखनऊ पहुंचेंगे.
    वहीं दूसरी तरफ आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी भी केंद्री गृह राज्यमंत्री की बर्खास्तगी की मांग कर रही हैं. उन्होंने एक ट्वीट कर पूछा कि बेटा किसानों की हत्या के आरोप में गिरफ्तार है तो मंत्री को पद पर बने रहने का अधिकार है? प्रियंका ने कहा कि निष्पक्ष जांच के लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री की बर्खास्तगी जरूरी है. प्रियंका ने प्रधानमंत्री को ट्वीट टैग करते हुए लिखा कि अपने मंत्री को संरक्षण देना बंद करिये.

    इससे पहले सोमवार को प्रियंका गांधी ने गृह राज्यमंत्री की बर्खास्तगी की मांग करते हुए लखनऊ में मौन व्रत किया था. प्रियंका के साथ ही लखनऊ में कई बड़े नेताओं और सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भी यहां पर धरना दिया. लखनऊ के साथ ही यूपी के सभी जिलों के अलावा देश के अलग अलग हिस्सों में भी कांग्रेसियों ने राजभवन के सामने धरना दिया. सभी ने लखीमपुर कांड में केंद्रीय गृहराज्यमंत्री अजय मिश्रा का इस्तीफा मांगा है.

    दूसरी तरफ मंगलवार को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा की 72 घंटे की पुलिस कस्टडी रिमांड शुरू हो चुकी है.आशीष से पूछताछ करने के लिए एसआईटी ने सवालों की लंबी लिस्ट तैयार की है. वारदात के वक्त आशीष कहां था? क्योंकि शनिवार को हुई पूछताछ में आशीष 3 अक्टूबर को 2 बजकर 20 मिनट से 3 बजकर 46 मिनट तक की अपनी मौजूदगी का सबूत नहीं दे पाया था.

    Tags: Agitation, Lakhimpur Kheri Farmer Protest, Lakhimpur Kheri Incident, Lakhimpur kheri violence, Lakhimpur News, Rakesh Tikait, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर