लाइव टीवी

इस जेल में 30 महिलाएं हैं करवाचौथ व्रत!

Prashant Pandey | ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 8, 2017, 12:00 PM IST
इस जेल में 30 महिलाएं हैं करवाचौथ व्रत!
जिला जेल में पति से मिलने का इंतजार करती करवाचौथ व्रत रखी महिला. Photo: ETV Network

लखीमपुर खीरी जिला जेल में 30 महिलाओं ने करवा चौथ का व्रत रखा है. जेल प्रशासन ने भी इन व्रती पत्नियों के लिए खास इंतज़ाम किए हैं.

  • Share this:
लखीमपुर खीरी जिला जेल में 30 महिलाओं ने करवा चौथ का व्रत रखा है. जेल प्रशासन ने भी इन व्रती पत्नियों के लिए खास इंतज़ाम किए हैं.

खीरी की जिला जेल में 2000 से ज्यादा बन्दी हैं. जेल में बन्द 30 महिलाएं भी करवा चौथ का व्रत रखें हैं.
जेल प्रशासन ने इन 30 व्रती महिलाओं के लिए खास इंतजाम किए हैं. करवे के चूरा से लेकर मिठाई और पूजा का इंतजाम भी किया गया है.

जेल अधीक्षक कहते हैं, हमनें करवाचौथ के व्रत को लेकर पूरा इंतजाम किया है. पूजा का स्थान भी बनाया गया है. पतियों को पत्नियों से नियमानुसार मिलवाया भी जाएगा. पूजा सामग्री से लेकर खास व्यंजन भी व्रती महिलाओं के लिए बनवाया है.

वहीं जेल के बाहर सैकड़ों महिलाएं पति से मिलने को बैठी हैं. कोई मिठाई लाई है, कोई फल कोई करवा भी. पर इंतजार भारी पड़ रहा है.

सुमन उन्हीं में से एक हैं. लखीमपुर खीरी में जिला जेल के बाहर बैठी हैं. सुबह ही आ गईं थीं. साथ मिठाई, केले और लाई भी लाई हैं. मांग में सिंदूर है और दिल मे पति के लिए दुआओं का अम्बार. करवा चौथ पर पति का आशीर्वाद लेने का मौका खोना नहीं चाहतीं.

पति गाड़ी चोरी के इल्जाम में जेल में बंद है, पर सुमन करवा चौथ पर बस एक नजर पति को देख लेने भर को जेल के गेट पर टकटकी लगाए है. वह चाहती है कि पति को एक बार देख ले. सुमन अपनी पूजा की थाली के सुमन पति के चरणों मे समर्पित कर दें और आशीर्वाद ले.
Loading...

सुमन कहती हैं कि पहली बार ऐसा है, जब पति घर पर नहीं हैं. उन्हें पुलिस ने फर्जी में फंसा दिया. हमने करवाचौथ व्रत रखा है. पति दूर हैं पर हमारा विश्वास नहीं टूटा है.

वहीं आरती भी 60 किलोमीटर दूर भीरा इलाके से आई हैं. पति हत्या के मामले में 15 साल से जेल में हैं. आरती की दो बेटियां हैं. पर पति-पत्नी के बीच विश्वास की डोर आज भी जस की तस है. बात करते करते आरती की आंखे नम हो जाती हैं. कहती हैं व्रत भी है, मिलना भी चाहते हैं. पति जिंदा हैं, तब तक आस भी है. आरती कहती हैं कि 15 साल, क्या पंद्रह जन्म भी अलग रहें, हम व्रत रखते रहेंगे पति के लिए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखीमपुर खेरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2017, 12:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...