Home /News /uttar-pradesh /

लखीमपुर खीरी: किसान को मारने वाले टाइगर का ग्रामीणों ने किया शिकार

लखीमपुर खीरी: किसान को मारने वाले टाइगर का ग्रामीणों ने किया शिकार

बाघ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया

बाघ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया

देवानंद की मौत से गुस्साए ग्रामीण सैकड़ों की संख्या में शाम पांच बजे करीब जंगल में घुस गए. इसके बाद झाड़ियों में छिपे बाघ को ग्रामीणों ने घेर लिया. ग्रामीणों ने बाघ पर लाठी-डंडे व भाले से हमला कर दिया.

    लखीमपुर खीरी के दुधवा टाइगर रिज़र्व के किसनपुर सेंचुरी से सटे चलतुआ गांव में बाघ के हमले से एक किसान की मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने आदमखोर की लाठी-डंडों से पीटकर मौत के घाट उतार दिया. पीलीभीत जिले के सेहरामऊ उत्तरी थाना क्षेत्र के गांव चलतुआ निवासी देवानंद (45) मैलानी से खरीदारी करके साइकिल से गांव आ रहे थे. दोपहर करीब साढ़े तीन बजे गांव के पास पहुंचने पर बाघ ने उन पर हमला कर दिया. बाघ के हमले में देवानंद गंभीर रूप से जख्मी हो गए. उन्हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

    देवानंद की मौत से गुस्साए ग्रामीण सैकड़ों की संख्या में शाम पांच बजे करीब जंगल में घुस गए. इसके बाद झाड़ियों में छिपे बाघ को ग्रामीणों ने घेर लिया. ग्रामीणों ने बाघ पर लाठी-डंडे व भाले से हमला कर दिया. ग्रामीणों ने बाघ को पीट-पीटकर मार डाला. बाघ के मारे जाने की सूचना मिलते ही दुधवा नेशनल पार्क के उपनिदेशक महावीर कौजलगी, वन्यजीव प्रतिपालक एसके अमरेश मौके पर पहुंचे. कौजलगी ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि जंगल के किनारे बैठे बाघ को ग्रामीणों ने पीटपीटकर मार डाला. बाघ के शव को पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेजा गया है.

    उधर ग्रामीणों का आरोप है कि वन विभाग की लापरवाही की वजह से देवानंद की जान गई. बाघ के गांव में घुसने की सूचना 10-15 दिन पहले ही वन विभाग को दी गई थी. इसके बाद भी बाघ को पकड़ने के लिए कोई टीम नहीं पहुंची.

    ये भी पढ़ें:

    'नन्हेलाल' के जज्बे को जानकर चौंक जाएंगे आप, 68 साल की उम्र में बच्चों जैसा हौंसला

    'अध्यादेश लाए या कानून बनाए लेकिन राम मंदिर निर्माण आम चुनावा से पहले शुरू करे सरकार'

    आपके शहर से (लखीमपुर खेरी)

    Tags: Tiger murder, Up news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर