होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP Bypoll: गोला गोकर्णनाथ उपचुनाव में सियासी पार्टियों ने बिछाई अपनी-अपनी गोटियां, बीजेपी-सपा में कांटे की टक्कर

UP Bypoll: गोला गोकर्णनाथ उपचुनाव में सियासी पार्टियों ने बिछाई अपनी-अपनी गोटियां, बीजेपी-सपा में कांटे की टक्कर

UP Byelection: गोला गोकर्णनाथ सीट पर बीजेपी और सपा में टक्कर

UP Byelection: गोला गोकर्णनाथ सीट पर बीजेपी और सपा में टक्कर

Gola Assembly Seat Byelection: लखीमपुर खीरी जिले की गोला विधानसभा सीट-139 पर बीजेपी के विधायक अरविंद गिरी की हार्ट अटैक ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

गोला सीट पर बीजेपी ने अपने दिवंगत विधायक अरविन्द गिरी के बेटे को बनाया प्रत्याशी
समाजवादी पार्टी की तरफ से विनय तिवारी मैदान में उतर सकते हैं

लखीमपुर खीरी. गोला गोकर्णनाथ विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए सियासी दलों ने अपनी-अपनी सियासी गोटियां बिछाना शुरू कर दिया है. इस सीट पर काबिज होने के लिए बीजेपी ने अपने दिवंगत विधायक अरविंद गिरी के पुत्र अमन गिरी को गोला विधानसभा से अपना प्रत्याशी बनाया है. बीजेपी की कोशिश क्षेत्र के लोगों की विकास कार्यों के साथ ही सहानुभूति के जरिए वोट समेटने की कोशिश है. तो वहीं सपा मौजूदा सरकार की विफलताओं को उजागर करके इस सीट को अपने पाले में लाने की कोशिश कर रही है. इस सीट की सियासी चाल में कांग्रेस और बसपा फिलहाल संजीदा नहीं दिख रहीं हैं.

लखीमपुर खीरी जिले की गोला विधानसभा सीट-139 पर बीजेपी के विधायक अरविंद गिरी की हार्ट अटैक से मौत होने के बाद उपचुनाव की घोषणा की गई थी. यूपी विधानसभा चुनाव-2022 में अरविंद गिरी इस सीट पर बीजेपी से दूसरी बार विधायक चुने गए थे. वहीं, अरविंद गिरी सपा से गोला विधानसभा से इससे पहले 3 बार विधायक रह चुके हैं. कुल 5 बार विधायक रहे चुके अरविंद गिरी की कुछ दिन पहले ही लखनऊ जाते समय कार में हार्ट अटैक आने से मौत हो गई थी. इसके बाद गोला विधानसभा में चुनाव आयोग ने उपचुनाव की तारीख 3 नवंबर तय की है.

बीजेपी ने अरविंद गिरी के बेटे पर लगाया दांव

गोला विधानसभा से भारतीय जनता पार्टी ने अरविंद गिरी के पुत्र अमन गिरी को अपना प्रत्याशी बनाया है. कहीं ना कहीं बीजेपी का गढ़ माने जाने वाली गोला विधानसभा सीट को बीजेपी खोना नहीं चाहती क्योंकि 2024 के लोकसभा चुनाव में यह सीट एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी. जिले के दोनों लोकसभा सीट में अरविंद गिरी क्षेत्र हिंदू-मुस्लिम सभी धर्मों के वोटरों पर अच्छी पकड़ रखते थे. अरविंद गिरी लोगों की समस्याओं को लेकर कई बार अपनी पार्टी के खिलाफ भी खड़े होकर लोगों की बात उठाने के लिए जाने जाते थे. क्षेत्र में अरविंद गिरी के द्वारा कराए गए बीजेपी सरकार में विकास का मुद्दा बनाकर बीजेपी वोट मांगेगी. वहीं अरविंद गिरी के पुत्र को प्रत्याशी बनाने से क्षेत्र की जनता की सहानुभूति भी उनके साथ जुड़ी रहेंगी.

सपा की तरफ से विनय तिवारी हो सकते हैं प्रत्याशी

गोला विधानसभा उपचुनाव के लिए सपा ने भी कमर कस ली है. पार्टी 2022 के प्रत्याशी को ही चुनाव मैदान में उतारना चाह रही है. पहले विनय तिवारी गोला सपा के प्रत्याशी थे. 97240 वोट पाने के बाद बीजेपी के प्रत्याशी अरविंद गिरी से हार गए थे. अरविन्द गिरी को करीब 1.26लाख वोट मिले थे. बसपा प्रत्याशी को 26 हजार व कांग्रेस को मात्र 3300 वोट मिले थे. सपा किसान-मजदूर, बेरोजगारी, मंहगाई और 14 दिन का गन्ना भुगतान का वादा, छुट्टा जानवर जैसे मुद्दे उठाकर बीजेपी सरकार के खिलाफ वोट डालने के लिए जनता से अपील करेगी. वहीं अभी तक कांग्रेस पार्टी ने गोला विधानसभा सीट के लिए अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं की है. बहुजन समाज पार्टी इस सीट पर अपना उम्मीदवार खड़ा करने के मूड में नहीं दिखाई दे रही है.

Tags: Lakhimpur Kheri News, UP latest news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें