यूपी में छुट्टा जानवरों से परेशान जनता, लखीमपुर खीरी के इस स्कूल में बांध दी गायें

मामला धौरहरा कोतवाली के मूड़ी कोरियाना गांव का है. यहां लोगों ने प्राइमरी स्कूल में गायों को बांध दिया. गांव वालों का कहना है कि छुट्टा जानवर फसलें तबाह कर रहे हैं.

Prashant Pandey | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 12, 2018, 3:35 PM IST
यूपी में छुट्टा जानवरों से परेशान जनता, लखीमपुर खीरी के इस स्कूल में बांध दी गायें
लखीमपुर खीरी के स्कूल में बंधी गायें. Photo: News 18
Prashant Pandey | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 12, 2018, 3:35 PM IST
उत्तर प्रदेश में छुट्टा जानवरों की​ स्थिति लगातार विस्फोटक रूप लेती दिख रही है. किसी न किसी​ जिले में रोज छुट्टा जानवरों से परेशान लोग बखेड़ा खड़ा कर रहे हैं. इसी क्रम मे लखीमपुर खीरी जिले में भी ऐसा ही ​मामला सामने आया है. यहां फसल बर्बाद कर रही गायों से परेशान लोगों ने प्राथमिक स्कूल में बांध दिया. प्रधानाध्यापिका जब सुबह स्कूल पहुंची तो स्कूल में दर्जनों गाएं बंधी देख हैरान रह गईं. स्कूल के बरामदों खिड़कियों में गायों को रस्सियों से बांध दिया था.

दरअसल मामला धौरहरा कोतवाली के मूड़ी कोरियाना गांव का है. यहां लोगों ने प्राइमरी स्कूल में गायों को बांध दिया. गांव वालों का कहना है कि छुट्टा जानवर फसलें तबाह कर रहे हैं. इसी कारण से उन्होंने दो दर्जन गायों को पकड़ा और मजबूरी में प्राइमरी स्कूल में लाकर बांध दिया. उधर छुट्टा जानवरों के स्कूल में बांधे जाने से स्कूल की पढ़ाई पूरी तरह से ठप हो गई है.

स्कूल के टीचर स्कूल के बाहर ही खड़े दिखाई दिए. जब उन्होंने इन गायों को हटाने की कोशिश की तो सभी ग्रामीण एक हो गए और उन्होंने गायों को वहां से हटाने का विरोध कर दिया. ग्रामीणों का कहना है कि जब फसल नहीं होगी तो बच्चों को पढ़ाकर क्या करेंगे.

उधर मामला बढ़ने पर शिकायत बीएसए तक पहुंची. मामले में बीएसए बुद्धप्रिय सिंह ने बताया कि एसडीएम और पुलिस को इस घटना की जानकारी दे दी गई है. मामले में प्रधानाध्यापिका ने तहरीर दी है, कार्रवाई की जाएगी. वहीं सूचना के बाद मौके पर पुलिस भी पहुंची.

गौरतलब है कि धौरहरा तहसील में पहले भी दो प्राइमरी स्कूलों में सैकड़ो छुट्टा गायों को बंधक बनाया जा चुका है. लोगों का आरोप है कि गांजर इलाके समेत जिले भर में छुट्टा गोवंश फसलों को बड़ी तेजी से बर्बाद कर रहे हैं. कुछ दिनों पहले नकहा के सकेथू गांव मे भी गायों की बन्द कर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया था.

ये भी पढ़ें:

UP के इस गांव के लोग 'बेटा-बेटी' की तरह करते हैं आवारा गायों की परवरिश

छुट्टा जानवरों से निपटने का योगी प्लान, बुंदेलखंड सहित 23 जगह बनेंगीं गोशाला
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर