विधवा महिला ने पुलिसकर्मी पर झांसा देकर शादी करने के साथ 10 लाख रुपये हड़पने का लगाया आरोप, जानें कैसे खुली पोल

पुलिसकर्मी पहले से शादीशुदा था.

पुलिसकर्मी पहले से शादीशुदा था.

लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में एक पुलिसकर्मी पर विधवा महिला ने शादी कर दो साल तक शारीकि शोषण के साथ दस लाख रुपये हड़पने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
लखीमपुर खीरी. उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में एक महिला ने पुलिस दीवान पर झूठी शादी कर 2 साल तक शारीरिक और मानसिक शोषण करने के साथ 10 लाख रुपये हड़पने का आरोप लगाया है. यही नहीं, महिला ने इस मामले की शिकायत पुलिस के उच्‍च अधिकारियों से भी की है. फिलहाल इस घटना से पुलिस विभाग (Police Department) में हड़कंप मच गया है.

यह मामला लखीमपुर खीरी के सदर कोतवाली का है, जहां पर सदर कोतवाली क्षेत्र में रहने वाली सरिता वर्मा ने पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र देकर अपनी शिकायत दर्ज कराई है. उसने एलआरपी चौकी में तैनात दीवान रमेश यादव को लेकर कहा,'उसने दो साल पहले मुझे अपनी बातों में उलझा कर बताया कि उसकी पत्नी की मौत हो गई है और फिर उसने मेरे साथ शादी कर ली. लेकिन वह पहले ही शादीशुदा था.' यही नहीं, इस बात के सबूत के तौर पर महिला ने शादी के फोटोग्राफ भी अधिकारियों के समक्ष पेश किए हैं. सरिता का कहना है कि 2 साल के बाद सिपाही की पहली पत्नी लखीमपुर पहुंची तो उसे अपने साथ हुए धोखे जानकारी हुई. महिला का आरोप है कि दीवान रमेश यादव 2 साल तक उसका शारीरिक और मानसिक शोषण करता रहा और उसके पास मौजूद 10 लाख रुपये भी झांसा देकर ले लिए.

अब करता है महिला के साथ मारपीट

सरिता वर्मा ने बताया कि मामला खुलने के बाद रमेश यादव ने गोला गोकरननाथ कोतवाली में अपना ट्रांसफर करा लिया है और वह वहीं कमरा लेकर रह रहा है. वह जब उसके पास जाती है तो मारपीट करके भगा देता है. जब उसने पुलिस के उच्‍च अधिकारियों से शिकायत की है, तो वह लगातार उसे जान से मारने की धमकी दे रहा है. वहीं महिला का आरोप है कि वह लगातार जिलाधिकारी पुलिस अधीक्षक को शिकायत कर रही है, लेकिन उसको कहीं भी न्याय नहीं मिल रहा है. आरोपी पुलिस कर्मी होने के चलते कोई भी कार्यवाही नहीं कर रहा है. वहीं पुलिस के अधिकारी इस मामले के संज्ञान में आने की बात कह रहे हैं लेकिन फिलहाल कैमरे के सामने बोलने से इंकार कर रहे हैं. उनका कहना है कि जांच के बाद विधिक कार्यवाही की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज