अपना शहर चुनें

States

लव जिहाद अध्यादेश: योगी सरकार के फैसले को मिला अयोध्या के संतों का साथ, इकबाल अंसारी ने कही ये बड़ी बात

लव जिहाद अध्यादेश को लेकर संतों ने सीएम योगी की तारीफ की है.  (file photo)
लव जिहाद अध्यादेश को लेकर संतों ने सीएम योगी की तारीफ की है. (file photo)

कथित लव जिहाद (love jihad) को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने जो कानून बनाया है उसका अयोध्या के साधु संत और बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) के पूर्व पक्षकार इकबाल अंसारी ने स्वागत किया है.

  • Share this:
अयोध्या. कथित लव जिहाद (love jihad) को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने जो कानून बनाया है उसका अयोध्या के साधु संतों से लेकर बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) के पूर्व पक्षकार तक ने स्वागत किया है और यूपी की तर्ज पर पूरे देश में इस तरह के कानून बनाए जाने की मांग की है. आपको बता दें कि मंगलवार को जबरन धर्मांतरण या शादी को लेकर बनाए जाने वाले कानून पर यूपी की कैबिनेट ने अहम फैसला लेकर अपनी मंजूरी की मुहर लगा दी.  कैबिनेट ने जिस कानून को मंजूरी दी है उसके अनुसार जबरन धर्मांतरण या शादी की तो 10 साल की सजा हो सकती है. यहीं नहीं पहली बार संगठनों को भी इसके दायरे में लाते हुए प्रावधान दिया गया है कि जबरन शादियां धर्मांतरण के मामले में संगठित लोगों या संगठन का नाम आया तो आरोपी के साथ संगठन के लोगों पर भी सख्त कार्रवाई की जा सकती है.

धर्मांतरण के जरिए शादी को रोकने के लिए एक अहम फैसला भी लिया गया है जिसके अनुसार दूसरे धर्म में शादी करने के लिए जिले के डीएम को 2 माह पहले प्रार्थना पत्र देना होगा. डीएम कार्यालय के बाहर सार्वजनिक नोटिस बोर्ड पर इसकी कॉपी लगाई जाएगी और अगर किसी ने आपत्ति की तो शादी के अनुमति नहीं मिलेगी.

ये भी पढ़ें: EOW की बड़ी कार्रवाई: 42 हजार करोड़ का फ्रॉड करने वाली नोएडा की कंपनी के 7 और डायरेक्टर गिरफ्तार



अयोध्या के संतों ने कही ये बात
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ दिन पहले ही लव जिहाद को लेकर कानून बनाए जाने की मंशा जाहिर कर दी थी. अब इस पर अमल करते हुए यूपी कैबिनेट ने इस कानून को मंजूरी दे दी है जिसके बाद राज्यपाल के हस्ताक्षर के बाद यह कानून लागू हो जाएगा. अयोध्या के साधु संत जहां मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को इस कानून के लिए नमन कर रहे हैं और साथ ही विश्वास भी जता रहे थे इस कानून के बाद हिंदू युवतियों का शोषण कम हो जाएगा. वही बाबरी मस्जिद के पूर्व पक्षकार रहे इकबाल अंसारी कहते हैं कि सवाल हिंदुस्तान का है. लव जिहाद कौम के लिए बहुत गलत बात है क्योंकि लव जिहाद के नाम पर हिंदू और मुसलमान दोनों कौम बदनाम होती हैं.  ऐसे लोग जो लव जिहाद के चक्कर में पढ़ते हैं दूसरे धर्मों में चाहे वह हिंदू हो या मुस्लिम हिंदू का लड़का मुसलमान की लड़की हो या ऐसे दूसरे धर्म के लोग अगर कोई भी इस तरह गलत काम करता है लव जिहाद करता है तो उसके लिए सख्त कानून बने और इन सब को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

सीएम योगी के फैसले की सराहना

हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने लव जिहाद पर कड़े कानून बनाने का निर्णय लिया है वो सराहनीय है. इससे पूरे देश में ऐसे कानून बनने चाहिए. योगी सरकार का कड़े कानून बनाने का निर्णय लिया या स्वागत योग है.  संतों ने सीएम योगी की तारीफ भी की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज