UP: 20 जून से लाभार्थियों को मिलेगा तीन माह का फ्री राशन, जानिए किसे मिलेगा योजना का लाभ

मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश सरकार की ओर से 20 जून से 14.79 करोड़ लाभार्थियों को तीन महीने का निशुल्क राशन दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश सरकार की ओर से 20 जून से 14.79 करोड़ लाभार्थियों को तीन महीने का निशुल्क राशन दिया जाएगा.

उत्तर प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तीसरे चरण में अन्त्योदय तथा पात्र गृहस्थी लाभार्थियों को 15 जून तक निशुल्क खाद्यान्न वितरण कर रही है. वहीं, मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश सरकार की ओर से 20 जून से 14.79 करोड़ लाभार्थियों को तीन महीने का निशुल्क राशन दिया जाएगा.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तीसरे चरण में अन्त्योदय तथा पात्र गृहस्थी लाभार्थियों को 15 जून तक निशुल्क खाद्यान्न वितरण कर रही है. वहीं, मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश सरकार की ओर से 20 जून से 14.79 करोड़ लाभार्थियों को तीन महीने का निशुल्क राशन दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने राशन वितरण को लेकर तैयारी के निर्देश अधिकारियों को जारी कर दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कोविड प्रोटोकाल के तहत सरकारी राशन की दुकानों से टोकन सिस्टम के तहत राशन वितरित किए जाने के निर्देश दिए हैं. यह निशुल्क राशन वितरण का अपनी तरह का सबसे बड़ा अभियान बताया जा रहा है.

खाद्य विभाग के अनुसार 15 जून तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत प्रदेश के अन्त्योदय राशन कार्डधारक 1,30,07,969 तथा पात्र गृहस्थी राशन कार्डधारक 13,41,77,983 कुल 14,71.85,952 (लगभग 14.71 करोड़ यूनिटों/लाभार्थियों) को राशन वितरण किया जाएगा. इसके बाद 20 जून से राज्य सरकार की ओर से लाभार्थियों को तीन महीने का राशन मुहैया कराया जाएगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार की ओर से गरीब व बेसहारा लोगों को दिए जाने वाले निशुल्क खाद्यान्न वितरण को लेकर अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं. सीएम ने कहा कि सरकार की ओर से दिए जाने वाले निशुल्क राशन वितरण में कोई भी पात्र लाभार्थी न छूटें. प्रदेश में 14.71 करोड़ यूनिटों पर 5 किलो प्रति यूनिट (तीन किलो गेहूं व दो किलो चावल) खाद्यान्न का नि:शुल्क वितरण किया जायेगा. राज्य सरकार की ओर से दिए जाने वाले निशुल्क खाद्यान्न से दिहाड़ी मजूदर, पटरी दुकानदार, व ठेला लगाने वाले सैकड़ों लोगों को बड़ी राहत मिलेगी.

कोविड प्रोटोकाल के तहत उचित दर की दुकानों पर राशन वितरण के दौरान टोकन सिस्टम लागू किया जाएगा. इसमें दुकान पर एक समय में 5 उपभोक्ता ही मौजूद रहेंगे. सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए दो उपभोक्ताओं के बीच दो गज की दूरी बनाए रखी जाएगी. वहीं, ई पॉस से वितरण के दौरान दुकानों पर सेनीटाइजर, साबुन व पानी अनिवार्य रूप से रखना होगा. इसके उपयोग के बाद ही उपभोक्ता ई पास मशीन का प्रयोग करेगा. गौरतलब है कि पिछले वर्ष लॉकडाउन के दौरान भी योगी सरकार ने गरीबों के साथ साथ दूसरे प्रदेशों से आए प्रवासियों के लिए भी राशन की व्यवस्था की थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज