COVID-19: UP में संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 1884, अब तक 1504 ठीक होकर डिस्चार्ज
Lucknow News in Hindi

COVID-19: UP में संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 1884, अब तक 1504 ठीक होकर डिस्चार्ज
संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 1884

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि वर्तमान में प्रतिदिन चार से पांच हजार कोरोना संक्रमितों के ब्लड का सैंपल टेस्ट किया जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे बढ़ा कर 10 हजार करने का करने का निर्देश दिया है

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को कहा कि प्रदेश में अब कोरोना (COVID-19) के 1,884 एक्टिव केस हैं. उपचार के बाद 1,504 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है. उन्होंने बताया कि शनिवार को कोरोना के 4,861 सैंपल की टेस्टिंग की गई. रविवार को 1365 सैंपल को मिलाकर 273 सैंपलों का पूल टेस्ट किया गया. आइसोलेशन वार्ड में 1,953 लोगों को और क्वारंटाइन सेंटर में 9,003 लोगों को रखा गया है. यह जानकारी रविवार को लखनऊ स्थित लोकभवन में कोरोना वायरस के संबंध में किए गए प्रेस कांफ्रेंस में अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी और प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने मीडिया को दी.

तबलीगी जमात के 325 विदेशी नागरीकों के खिलाफ एफआईआर

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि वर्तमान में प्रतिदिन चार से पांच हजार कोरोना संक्रमितों के ब्लड का सैंपल टेस्ट किया जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे 10 हजार करने का निर्देश दिया है. उन्होंने बताया कि 20 जनपदों में 2,931 तबलीगी जमात के लोगों की पहचान हुई है. इनमें से 2,670 को क्वारंटाइन कराया गया है. साथ ही जमात के ही 325 विदेशी नागरिकों के खिलाफ 44 एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की गई है. उन्होंने बताया कि प्रदेश के 71 जनपदों के 308 थाना क्षेत्रों में 467 हॉटस्पॉट एरिया को चिन्हित किया गया है. इनमें आठ लाख 77 हजार मकान और करीब 49 लाख लोग हैं.





तीन वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को सौंपी कमान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर इन तीन जनपदों में कोविड केयर की कमान तीन वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को दिया गया है. कानुपर में उप्र राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के एमडी अनिल गर्ग और आईजी दीपक रतन को तैनात किया गया है. इसी तरह आगरा में प्रमुख सचिव अवस्थापना आलोक कुमार और आईजी विजय कुमार की तैनाती की गई है. मेरठ की कमान सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव टी. वेंकटेश और आईजी लक्ष्मी सिंह को दी गई है. इन सभी के साथ स्वास्थ्य विभाग के भी दो वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती के आदेश हुए हैं. सीएम योगी ने इन जनपदों से हर दिन सुबह और शाम को रिपोर्ट लेने का आदेश दिया है. अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को मेरठ, कानपुर और आगरा पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया है.

ये भी पढ़ें:

Weather Alert: तेज आंधी और बिजली गिरने से 14 लोगों की मौत, इन जिलों के लिए जारी किया अलर्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading