लाइव टीवी

यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन 2.39 लाख छात्रों ने छोड़ी परीक्षा
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 19, 2020, 9:39 AM IST
यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन 2.39 लाख छात्रों ने छोड़ी परीक्षा
यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को 2.39 लाख से अधिक छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए. (फाइल फोटो)

शैक्षणिक सत्र 2019-20 (Academic Session 2019-20) के लिए आयोजित की गई उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (Uttar Pradesh Board of Secondary Education) की परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को 2.39 लाख से अधिक छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए. पहली बार परीक्षा केंद्रों में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों में वॉयस रिकॉर्डिंग की सुविधा भी है.

  • Share this:
लखनऊ. शैक्षणिक सत्र 2019-20 (Academic Session 2019-20) के लिए आयोजित की गई उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (Uttar Pradesh Board of Secondary Education) की परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को 2.39 लाख से अधिक छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए. इन छात्रों में से 1.57 लाख से अधिक छात्र कक्षा 10 (हाई स्कूल) से हैं और 82,091 छात्र इंटरमीडिएट के हैं. यह डेटा शाम 7 बजे तक जिला और मंडल स्तर के नियंत्रण कक्षों द्वारा दी गई सूचना पर आधारित है.

बोर्ड सचिव कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, 34 छात्रों को ‘परीक्षा में लाभ प्राप्त करने के लिए अवैध साधनों का उपयोग करते हुए पकड़ा गया था’, जबकि उनमें से 27 लड़के (26 लड़के और एक लड़की) हाई-स्कूल से थे, अन्य सात लड़के इंटरमीडिएट से थे. गड़बड़ी के संबंध में कुल 7 प्राथमिकी भी दर्ज की गई है.

 2018 से 10 लाख कम छात्रों ने कराया पंजीकरण
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 56,01,034 विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है. इस वर्ष पंजीकरण की संख्या 2019 की तुलना में 1.94 लाख और 2018 की तुलना में लगभग 10 लाख कम है. इस साल हाईस्कूल में कुल 30,33,961 छात्रों ने पंजीकरण कराया है, जबकि इंटरमीडिएट में कुल 25,67,073 छात्र पंजीकृत हैं. हाई स्कूल में पंजीकृत कुल 30,12,855 नियमित छात्र हैं, जबकि 21,106 प्राइवेट परीक्षार्थी हैं. इंटरमीडिएट में 24,96,531 छात्र नियमित हैं जबकि 70,542 छात्र प्राइवेट हैं.



परीक्षा कक्षों में लगाए गए हैं 1.90 लाख सीसीटीवी कैमरे
माध्यमिक और उच्च शिक्षा विभाग का काम देख रहे उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा (Deputy Chief Minister Dinesh Sharma) ने बताया था कि इस बार कुल 94,000 परीक्षा कक्षों में 1.90 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जिनमें 1.88 लाख पर्यवेक्षक हैं. दो टोल फ्री नंबर- 18001805310/5310 भी लॉन्च किए गए हैं, जिस पर छात्र और अन्य लोग किसी भी मदद के लिए सुबह 8 से रात 8 बजे के बीच कॉल कर सकते हैं.

हर केंद्र में लगाए गए हैं वाई-फाई राउटर
इस साल सरकार ने कुछ नई पहल की है, जैसे सीसीटीवी कैमरों में वॉयस रिकॉर्डिंग की सुविधा भी है और लाइव टेलीकास्ट को संभव बनाने के लिए हर केंद्र में वाई-फाई राउटर लगाए गए हैं. इस साल हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 कार्य दिवसों में और इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 कार्य दिवसों में समाप्त होने वाली है. नतीजे 24 अप्रैल को घोषित किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें - 

देश भर में समान नागरिक संहिता की मांग, याचिका पर आज सुनवाई करेगा हाईकोर्ट

जामिया हिंसा: प्रदर्शन में गंवाई थी एक आंख, अब पुलिस के रवैये पर उठाया सवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 9:32 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर