Lockdown : यूपी में हरियाणा से 82 बसों में लाए गए 2224 लोग, गृह जिलों में होंगे क्‍वारंटाइन

यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने कहा कि प्रदेश में अब तक मास्क नहीं लगाने वाले 13 हजार से ज्यादा लोगों का चालान हो चुका है.

यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने कहा कि प्रदेश में अब तक मास्क नहीं लगाने वाले 13 हजार से ज्यादा लोगों का चालान हो चुका है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि सीएम के निर्देश पर हरियाणा से 82 बसों के जरिये 2224 लोग यूपी लाए गए हैं. इसी तरह अन्य राज्यों से भी लोगों को लाया जा रहा है. ये सभी अपने-अपने गृह जनपद में क्‍वारंटाइन किए जाएंगे.

  • Share this:
लखनऊ. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों और गरीबों को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) वापस लाने की कवायद तेज हो गई है. योगी सरकार के अनुसार पहली खेप में हरियाणा से 82 बसों में सवार होकर 2224 लोग यूपी आ गए हैं. इन्हें इनके गृह जनपद में क्‍वारंटाइन किया जा रहा है.  रविवार तक 11 हजार लोग वापस आ जाएंगे.



शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में अपर मुख्य सचिव गृह और सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 के साथ की अहम बैठक की. इस दौरान संपूर्ण लॉकडाउन की समीक्षा की गई. उन्होंने बताया कि प्रदेश के 18 जिलों के साथ संतकबीरनगर में भी वरिष्ठ अधिकारी भेजे गए हैं. प्रदेश में हॉटस्पॉट की योजना कारगर साबित हो रही है. 90 प्रतिशत कोरोना के केस हॉटस्पॉट क्षेत्र से ही आ रहे हैं.



उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है. अब तक 30163 एफआईआर दर्ज कर 31 हजार वाहन सीज किए गए हैं. अब तक 390 स्थानों को हॉटस्पॉट के रूप में चिह्नित किया गया. वहीं 44 विदेशियों के खिलाफ एफआईआर के साथ 269 के पासपोर्ट जब्त किए गए.





अपने-अपने जनपदों में क्‍वारंटाइन किए जाएंगे प्रवासी
अवनीश अवस्थी ने बताया कि सीएम के निर्देश पर हरियाणा से 82 बसों के जरिये 2224 लोग यूपी लाए गए हैं. इसी तरह अन्य राज्यों से भी लोगों को लाया जा रहा है. ये सभी अपने-अपने गृह जनपद में क्‍वारंटाइन किए जाएंगे. ये मजदूर प्रदेश के 16 जिलों के हैं. उन्होंने कहा कि सीएम ने मेडिकल इंफेक्शन रोकने के लिए भी प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. मेडिकल इंफेक्शन रोकने के लिए जल्द ही टीम का गठन होगा. आयुष डॉक्टरों की टीम को भी प्रशिक्षित करने के निर्देश दिए गए हैं.







सप्लाई चेन से जुड़े लोगों की जांच के निर्देश

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि सीएम ने प्रदेश में सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगाई हुई है. साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया पर भी नजर रखने का निर्देश दिया है. सप्लाई चेन से जुड़े लोगों की भी जांच के निर्देश दिए हैं. वहीं निर्देश दिया है कि क्‍वारंटाइन सेंटर 1000 रुपये व राशन किट के साथ लोग भेजे जाएं.



गांवों में 15 लाख से ज्यादा मजदूरों को मिलेगा रोजगार

उन्होंने कहा कि यूपी के गांवों में 15 लाख से अधिक मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा. 18823 ग्राम पंचायतों में 44478 परियोजनाएं शुरू हो गई हैं. ग्राम पंचायतों में 4 लाख 23 हजार 231 श्रमिक काम कर रहे हैं. वहीं पीडब्ल्यूडी की 172 परियोजनाओं के भी काम शुरू हो गए हैं. सीएम ने ग्रामीण क्षेत्र में सभी सरकारी कार्य शुरू कराने के निर्देश दिए हैं. 27 लाख 78 हजार श्रमिकों में 280 करोड़ रुपये वितरित किये गए हैं. इस वर्ष फसलों की कटाई में मजदूरों और मशीनों की कमी नहीं हुई है.



यूपी में अब तक 30 लाख कुंतल से अधिक गेहूं की खरीद

उन्होंने कहा कि पूर्वांचल में 4975, बुंदेलखंड में 4481, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे पर 488 श्रमिक काम कर रहे हैं. वहीं अब तक 30 लाख कुंतल से अधिक गेंहू की खरीद हुई है. अपर मुख्य सचिव ने कहा कि यूपी के लॉकडाउन मॉडल को विदेश में भी अपनाया जा रहा है. इस दौरान प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि यूपी के 57 जिलों में 1778 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं. यूपी में कोरोना से अब तक 26 लोगों की मौत हुई है. कल यूपी में 4415 सैम्पल की टेस्टिंग हुई.



(इनपुट: राजीव पी सिंह)



ये भी पढ़ें:-



उत्तर प्रदेश की योगी सरकार नहीं देगी लॉकडाउन में कोई छूट: सूत्र



गोरखपुर में 3 लाख लोगों ने डाउनलोड किया आरोग्य सेतु ऐप, मगर...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज