Home /News /uttar-pradesh /

31 officers of commercial tax department suspended in cm yogi adityanath first term bulldozer baba nodark

UP: माफियाओं के साथ भ्रष्ट अधिकारियों पर भी चला सीएम योगी का 'बुलडोजर', जानें किस-किस पर गिरी गाज

सीएम योगी के पहले कार्यकाल में वाणिज्यकर विभाग के 31 अधिकारियों पर कार्रवाई हुई.

सीएम योगी के पहले कार्यकाल में वाणिज्यकर विभाग के 31 अधिकारियों पर कार्रवाई हुई.

UP News: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भारतीय जनता पार्टी की शानदार जीत के बाद बुलडोजर काफी चर्चा में है. वैसे सीएम योगी आदित्‍यनाथ के कार्यकाल में बुलडोजर माफियाओं के साथ भष्टाचार करने वालों अधिकारियों पर भी चला है. उन्‍होंने बीते कार्यकाल में वाणिज्य कर विभाग के 31 अधिकारियों पर कार्रवाई का हंटर चलाया था. इसके अलावा 10 अधिकारियों की पत्रावली शासन में लंबित है, तो इतने पर ही शासन जल्‍दी फैसला लेगा.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भारतीय जनता पार्टी ने शानदार जीत दर्ज की है. यूपी की इस जीत को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के सुशासन और भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस के कारण बड़ी जीत माना जा रहा है. जीत के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं के जश्न में इस बार सबसे ज्यादा लोकप्रिय बुलडोजर रहा. रुझानों से परिणाम आने के बाद तक लोग बुलडोजर के साथ जश्न मना रहे थे और सोशल मीडिया पर तो बुलडोजर की पोस्ट की भरमार लगी पड़ी है. कोई इस जीत को ‘बुलडोजर की वापसी’ बता रहा है तो कोई इसे ‘बुलडोजर से भ्रष्टाचारी की सफाई’ बता रहा है.

सीएम योगी की भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति का ही परिणाम है कि आज दोबारा से भाजपा सत्ता पर काबिज हो पाई है. उन्‍होंने भष्टाचार के मामले में कड़ा रुख अख्तियार करते हुए बीते कार्यकाल में वाणिज्य कर विभाग के 31 अधिकारियों पर कार्रवाई का हंटर चलाया था. इस दौरान सीएम योगी के निर्देश के बाद ताबड़तोड़ भ्रष्ट अधिकारियों पर अपर मुख्य सचिव संजीव मित्तल ने कार्यवाही की .

इन पर चला सीएम का हंटर
>>एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1- 01
>>एडिशनल कमिश्नर ग्रेड-2 – 03
>>ज्वाइंट कमिश्नर – 08
>>डिप्टी कमिश्नर -02
>>असिस्टेंट कमिश्नर -08
>>सांख्यिकी अधिकारी -01
>>वाणिज्य कर अधिकारी-08

इन पर भी गिरी गाज
यही नहीं, भ्रष्टाचार के मामले में 10 अधिकारियों पर इसी सप्ताह कर्रवाई हुई है. इनमें भावना अग्रवाल असिस्टेंट कमिश्नर (गाजियाबाद), दीप्ति अग्रवाल असिस्टेंट कमिश्नर (लखनऊ), डीके वर्मा ज्‍वाइंट कमिश्नर (कानपुर), प्रमोद कुमार डिप्टी कमिश्नर (कानपुर), श्री राम सरोज ज्‍वाइंट कमिश्नर ट्रेनिंग सेंटर,
अंजलि चौरसिया असिस्टेंट कमिश्नर (बाराबंकी), संत जैन (ज्‍वाइंट कमिश्नर) व अन्य अधिकारियों से संबंधित प्रकरण पर शासन को जांच रिपोर्ट प्राप्त हो गयी है जिस पर इसी सप्ताह निर्णय लिया जाना है.

UP Roadways की बसों में अब परिचालक पूछेंगे यात्रियों की उम्र, जानें क्‍या है UPSRTC का मकसद?

वहीं, वाणिज्यकर विभाग में मुरादाबाद कांड में शासन ने बड़ी करवाई करते हुए 14 अधिकारियों को निलंबित किया था जिसमे अनिल कुमार राम त्रिपाठी, ज्‍वाइंट कमिश्नर, अनूप कुमार प्रधान, ज्‍वाइंट कमिश्नर, डॉ श्याम सुंदर तिवारी ज्‍वाइंट कमिश्नर व एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 अरविंद कुमार को न्यायालय से फौरी तौर पर राहत मिल गयी थी, लेकिन न्यायालय ने जांच के आदेश में दखल देने से साफ इंकार कर दिया था. ऐसे में शासन के अधिकारियों की मानें तो इसी सप्ताह मुरादाबाद प्रकरण की जांच रिपोर्ट आनी तय है जिसमे कई बड़े अधिकारियों के विकट गिरने तय माने जा रहे हैं.

Tags: Bulldozer Baba, CM Yogi Adityanath, UP election results, UP Election Results 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर