UP में Corona मामलों में कुछ कमी, 24 घंटे में सामने आए 32,993 संक्रमित लेकिन 265 की मौत

यूपी में पिछले एक दिन में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कुछ कमी आई है. (प्रतीकात्मक)

यूपी में पिछले एक दिन में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कुछ कमी आई है. (प्रतीकात्मक)

अब तक 4 करोड़ से ज्यादा Corona Test करने वाला पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश, तेजी से बढ़ाई जा रही है वैक्‍सीनेशन और टेस्ट करने की दर.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 4:17 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना का संक्रमण कुछ हल्का होता दिख रहा है लेकिन अभी भी नए मिले संक्रमितों की संख्या 30 हजार के पार है. पिछले 24 घंटे की बात की जाए तो 32,993 नए संक्रमित रोगी मिले हैं. हालांकि जो बात गौर करने वाली है वो ये है कि इन 24 घंटों में 265 लोगों ने इस संक्रमण से दम तोड़ दिया है. वहीं अब प्रदेश में सक्रिय मामलों की संख्या 3,06,458 हो गई है. वहीं एक दिन के अंदर यूपी में 1,84,144 सैंपल्स की जांच की गई. अब तक प्रदेश में 4,01,41,354 सैंपल्स की जांच की गई है. 4 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है.

वहीं संक्रमित मामलों की बात की जाए तो पिछले 24 घंटे में मिले 32993 मामले जो सामने आए हैं ये पिछले एक दिन के आंकड़े के मुकाबले 500 कम हैं जो थोड़ी राहत की खबर है. लेकिन मौत के बढ़ता आंकड़ा अभी भी चिंता का विषय है. जानकारी के अनुसार अब तक कुल 8 लाख 34 हजार 961 लोग स्वस्थ हो चुके हैं.

तेजी से चल रहा है वैक्सीनेशन का काम

वहीं वैक्सीनेशन का काम भी राज्य में निरंतर चल रहा है. जो फ्रंटलाइन वर्कर अपना सेकेंड डोज नही ले पाये है उनको वैक्सीनेट करने का कार्य भी चल रहा है. सर्विलांस टेस्टिग टेकिंग सारे कार्य भी हो रहे हैं. वहीं एसीएस नवनीत सहगल का कहना है कि प्रदेश मे संक्रमण से उभरने वालो की संख्या बढ़ती जा रही है, ये एक अच्छा प्रोसेस है, ऐसा प्रतीत हो रहा है, संक्रमण से मुक्ति पाने वालो की संख्या बढ़ रही है. प्रदेश में टेस्ट की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है. वहीं उन्होंने बताया कि प्रदेश में मौजूद 24 करोड़ लोगों में से से 20 करोड़ लोगों तक स्वास्‍थ्य विभाग पहुंच चुका है. वहीं मुख्यमंत्री ने भी निर्देश दिया है कि सेक्टर मजिस्ट्रेट की प्रणाली को लागू किया जाए. वे ये देखेंगे कि किसी को भी अस्पताल की आवश्यकता होती है तो उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज