Lucknow Corona News: रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते 2 डॉक्टर समेत 4 गिरफ्तार, 30,000 रुपए में बेचते थे एक इंजेक्शन

लखनऊ ने रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले गिरफ्तार किए हैं.

लखनऊ ने रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले गिरफ्तार किए हैं.

Lucknow News: लखनऊ पुलिस ने ठाकुरगंज स्थित एरा मेडिकल कॉलेज के पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 34 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 7:10 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से जूझ रही उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ऑक्सीजन से लेकर रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdesivir) तक के लिए मारामारी है. तमाम सरकारी कोशिशों के बाद भी स्थितियां नियंत्रण में नहीं आ पा रही हैं. इस बीच रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी भी शुरू हो गई है. अब लखनऊ पुलिस ने इस कालाबाजारी पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. पुलिस ने ठाकुरगंज स्थिति एरा मेडिकल कॉलेज के पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनमें दो डॉक्टर भी शामिल हैं.

पुलिस ने इनके पास से 34 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए हैं. यही नहीं इनके पास से 4 लाख 69 हजार रुपये भी बरामद किए गए हैं. पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है.

दरअसल, पुलिस को ठाकुरगंज इलाके में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की सूचना मिल रही थी. पुलिस ने 4 लोगों को दबोचा, जिनमें एक डॉ सम्राट पांडेय है. वह गोंडा के रहने वाले हैं. वहीं, दूसरा डॉ अतहर लखनऊ निवासी है. पुलिस ने इनके दो एजेंट उन्नाव के विपिन कुमार और तहजीब उल हसन को भी दबोचा है. पुलिस का मानना है कि पूरी राजधानी में कालाबाजारी करने वाला गिरोह सक्रिय है. इस गिरोह के अन्य सदस्यों को भी जल्द ही दबोचा जाएगा.

30 हजार रुपये में बेच रहे इंजेक्शन
पुलिस पूछताछ में पता चला कि 1800 रुपए के रेमडिसिविर इंजेक्शन को ये लोग 20 से 30 हजार रुपए में बेच रहे थे. पूरी कीमत जरूरतमंद की जेब देखकर तय होती थी. यही नहीं लखनऊ में कुछ व्यापारियों को भी हिरासत में लिए जाने की खबर है. साथ ही कई ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज