लखनऊ में 66 साल के कैंसर पेशेंट ने कोरोना को दी मात, ठीक होकर KGMU से हुआ डिस्चार्ज

धारावी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार घट रही है.
धारावी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार घट रही है.

कुलपति (VC) एमएलबी भट्ट ने बताया कि कोरोना संक्रमित (corona positive) मरीज पूरी तरह से ठीक होकर शनिवार को अस्पताल से डिस्चार्ज हो गया. उन्होंने बताया कि मरीज को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन की सलह दी गई है.

  • Share this:
लखनऊ. एक तरफ उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना संक्रमण (COVID-19 Infection) के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं. वहीं डॉक्टरों की टीम इन्हें नियंत्रित करने के लिए जीतोड़ मेहनत कर रही है. इसी बीच उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में 66 साल के एक मरीज ने कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित होने के बावजूद कोरोना को मात दे दी. मरीज का उपचार लखनऊ के किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (KGMU) में चल रहा था. इस संबंध में केजीएमयू के कुलपति एमएलबी भट्ट ने बताया कि गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के कोरोना वायरस के संक्रमण से रिकवर करने की संभावना काफी कम होती है.

उन्होंने कैंसर से पीड़ित व्यक्ति के कोरोना संक्रमण से रिकवर करने को सकारात्मक संदेश बताया और कहा कि यह ऐसे अन्य मरीजों के लिए भी उम्मीद भरा है. कुलपति एमएलबी भट्ट ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज पूरी तरह से ठीक होकर शनिवार को अस्पताल से डिस्चार्ज हो गया. उन्होंने बताया कि मरीज को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन की सलह दी गई है.


प्रदेश में अबतक 2243 एक्टिव केस, 138 लोगों की मौत



इससे पहले शुक्रवार को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में 11 मई से ही प्रदेश में एक्टिव केस कम है और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अधिक होने का क्रम जारी है. उन्होंने बताया कि वर्तमान में 2243 एक्टिव केस हैं. उपचार के बाद 3238 पेशेंट पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है. हालांकि अबतक 138 लोगों की मौत भी हुई है. उन्होंने बताया कि गुरूवार को 7249 सैंपलों की टेस्टिंग की गई.

ये भी पढे़ं:

राजधर्म की सेवा में जुटे सीएम योगी, पहली बार दो महीने बाद पहुंचे गोरखनाथ मठ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज