लाइव टीवी

Ayodhya Verdict: यूपी में 48 घंटों के अंदर भड़काऊ पोस्ट पर 34 FIR, 77 गिरफ्तार

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 11, 2019, 7:52 AM IST
Ayodhya Verdict: यूपी में 48 घंटों के अंदर भड़काऊ पोस्ट पर 34 FIR, 77 गिरफ्तार
अयोध्‍या ि‍विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यूपी में 48 घंटों के अंदर भड़काऊ पोस्ट पर 34 FIR दर्ज की गई हैं और 77 को गिरफ्तार किया गया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) तड़के उठ जाते हैं, लेकिन शनिवार को वह और जल्‍दी उठ गए. नियमित अपना पूजा-पाठ संपन्न करने के बाद सीएम राज्य की कानून व्यवस्था की समीक्षा में जुट गए थे.

  • Share this:
लखनऊ. अयोध्या (Ayodhya Verdict) मामले पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का फैसला आने से पहले उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखने के आदेश दिए गए थे. यूपी के आईजी एलओ प्रवीण कुमार ने न्यूज 18 से बातचीत में बताया कि पिछले 48 घंटों में सोशल मीडिया पर साइबर पेट्रोलिंग जारी है. उन्होंने बताया कि शुक्रवार रात 10 बजे से 48 घंटों में भड़काऊ पोस्ट पर 34 एफआईआर दर्ज की गई है, जबकि 77 लोग गिरफ्तार किए गए.

सोशल मीडिया पोस्टों पर कार्रवाई
फेसबुक पर 1355 पोस्ट और 98 यूट्यूब वीडियो के खिलाफ कार्रवाई की गई है. आईजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रवीण कुमार के मुताबिक, अयोध्या पर फैसले की तैयारी पिछले एक महीने से चल रही थी, जिसके तहत 480 लाइसेंसी असलहों के निरस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू हो गई थी. 135 असलहा लाइसेंस निरस्त भी कराए गए. 15 हज़ार पीस कमेटी की बैठकों के जरिए समाज के हर वर्ग से पुलिस जुड़ी रही.

सफल रहा साइबर पेट्रोलिंग का प्लान

स्‍थानीय प्रशासन और पुलिस के इन प्रयासों के चलते फैसले के दिन और उसके बाद अभी तक कहीं से किसी तरह की गड़बड़ी की खबर सामने नहीं आई है. फैसले के अगले दिन 5 हज़ार से ज्यादा बारावफात के जुलूस अगली चुनौती थी, लेकिन यूपी पुलिस ने उसे भी बगैर किसी विवाद के निपटा लिया. बीते 48 घंटों ने यूपी पुलिस की साइबर पेट्रोलिंग के प्लान पर सफलता की मुहर लगा दी, जिसके चलते प्रदेश में शांति और सुरक्षा बनी रही.

सीएम योगी ने खुद संभाल रखा था मोर्चा

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ तड़के उठ जाते हैं, लेकिन शनिवार को योगी और पहले उठ गए और अपना पूजा-पाठ संपन्न कर राज्य की कानून-व्यवस्था की समीक्षा में लग गए. शनिवार सुबह एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी ओपी सिंह से फोन पर बात की और पूरे राज्य की हालात का जायजा लिया.
Loading...

विवादित जमीन रामलला विराजमान को दी गई

शनिवार को दिए अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में विवादित जमीन रामलला विराजमान को देने का आदेश दिया है. वहीं, सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन अयोध्या में कहीं भी देने का आदेश दिया गया है.

ये भी पढ़ें:

Ayodhya Verdict: फैसले के दिन सीएम योगी ने पुलिस कंट्रोल रूम में बैठकर ऐसे संभाला था मोर्चा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 7:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...