UP में 9 करोड़ लोगों को लगनी है कोरोना वैक्सीन, अब तक 1 करोड़ का ऑर्डर दे चुकी है योगी सरकार

योगी सरकार ने यूपी में टीके की मांग को देखते हुए ग्लोबल टेडर निकलाने का फैसला किया है. (File Photo- CM Yogi)

योगी सरकार ने यूपी में टीके की मांग को देखते हुए ग्लोबल टेडर निकलाने का फैसला किया है. (File Photo- CM Yogi)

Lucknow News: यूपी सरकार 1 मई से वैक्सीनेशन का महाभियान शुरू करने जा रही है. करीब 9 करोड़ लोगों को टीके लगाए जाने का अनुमान है. योगी सरकार अब तक 1 करोड़ टीके का ऑर्डर दे चुकी है. जानकारी के अनुसार करीब 4 करोड़ वैक्सीन के लिए योगी सरकार ग्लोबल टेंडर निकालेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 12:24 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन (COVID-19 Vaccination) का महाभियान 1 मई से शुरू होने जा रहा है. पहली मई से 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण अभियान (Vaccination Drive) शुरू हो रहा है. इस महाभियान के लिए भारी तादाद में टीकों की आवश्यकता है. इसी को देखते हुए यूपी सरकार (UP Government) ग्लोबल टेंडरिंग करने जा रही है. वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई कमेटी ने ग्लोबल टेंडरिंग कराने की सिफ़ारिश की है.

बता दें कि यूपी सरकार प्रदेश में 1 मई से वैक्सीन का महाभियान शुरू करने जा रही है. इस अभियान में करीब 9 करोड़ लोगों को टीके लगाए जाने का अनुमान है. योगी सरकार अब तक 1 करोड़ टीके का ऑर्डर दे चुकी है. बताया जा रहा है कि टीका के लिए ग्लोबल टेंडर में जाने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य है. जानकारी के अनुसार, करीब 4 करोड़ वैक्सीन के लिए योगी सरकार ग्लोबल टेंडर निकालेगी. 10 दिन में यह प्रक्रिया पूरी होगी.

अब तक 1.21 करोड़ से अधिक लोगों का टीकाकरण

गुरुवार को निगरानी समितियों के साथ संवाद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार कोविड टीकाकरण अभियान को व्यापक स्तर पर संचालित कर रही है. अब तक 1 करोड़ 21 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया है. यह संख्या देश में सर्वाधिक है. 1 मई 2021 से 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण प्रारम्भ किया जाएगा. वैक्सीनेशन सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था को लागू करने तथा वहां भीड़ न एकत्र होने देने में निगरानी समितियों को विशेष ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की वेस्टेज न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए निर्धारित संख्या में लोगों को बुलाया जाए. टीकाकरण केन्द्र पर रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था के साथ-साथ वैक्सीनेशन के बाद आधे घंटे ऑब्जर्वेशन में रहने के लिए स्थान निर्धारित किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज