Lucknow : प्रयागराज के 9 और महोबा के 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड, भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान जारी
Lucknow News in Hindi

Lucknow : प्रयागराज के 9 और महोबा के 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड, भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान जारी
यूपी में भ्रष्टाचार के खिलाफ मुख्यमंत्री की जीरो टॉलरेंस की नीति बरकरार है. (सांकेतिक तस्वीर)

महोबा से आ रही खबर के मुताबिक भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था बनाने के क्रम में यहां 4 पुलिसकर्मियों पर निलंबन की गाज गिरी है, जबकि प्रयागराज में जीरो टॉलरेंस की नीति के शिकार 9 पुलिसकर्मी हुए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2020, 8:46 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. भ्रष्टाचार (Corruption) के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की जीरो टॉलरेंस (Zero tolerance) की नीति बहुत तेजी से अपना काम कर रही है. आज महोबा (Mahoba) और प्रयागराज (Prayagraj) के कई पुलिसकर्मियों को निलंबित (suspend) कर दिया गया है. महोबा से आ रही खबर के मुताबिक यहां 4 पुलिसकर्मियों पर निलंबन की गाज गिरी है, जबकि प्रयागराज में जीरो टॉलरेंस की नीति के शिकार 9 पुलिसकर्मी हुए.

महोबा में इन्हें किया गया सस्पेंड

महोबा से मिली जानकारी के मुताबिक, चरखारी के तत्कालीन इंस्पेक्टर राजेश कुमार सरोज, तत्कालीन एसओ खरेला राजू सिंह, करबई के तत्कालीन एसओ देवेंद्र शुक्ला और कोतवाली के सिपाही राजकुमार कश्यप सस्पेंड कर दिए गए हैं. आपको ध्यान होगा कि बुधवार को योगी सरकार के आदेश पर महोबा SP रहे मणिलाल पाटीदार को सस्पेंड कर डीजीपी कार्यालय अटैच किया गया था. उनके खिलाफ जांच का आदेश भी दिया गया है. उनपर आरोप है कि उन्होंने गिट्टी परिवहन में लगी गाड़ियों से पैसे मांगे और मांग पूरी न करने पर गाड़ियों के मालिकों का उत्पीड़न किया. यह जानकारी देते हुए गृह विभाग के प्रवक्ता ने यह बताया था कि लखनऊ के पुलिस उपायुक्त अरुण श्रीवास्तव को महोबा का नया एसपी बनाकर जिले में भेजा गया है.



प्रयागराज में 9 पुलिसकर्मी सस्पेंड
इसी तरह प्रयागराज में भी 9 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया. गुरुवार को सस्पेंड किए गए इन पुलिसकर्मियों में करेली के इंस्पेक्टर अंजनी कुमार श्रीवास्तव, अतरसुइया के इंस्पेक्टर संदीप मिश्रा, करेली थाने के इंस्पेक्टर नागेंद्र कुमार नागर, सब इंस्पेक्टर गौरव तिवारी, करेली थाना के सब इंस्पेक्टर प्रेम कुमार, कोरांव थाना के सब इंस्पेक्टर कुलदीप कुमार यादव, थाना नवाबगंज के सब इंस्पेक्टर दुर्गेश कुमार राय, थाना नवाबगंज के सब इंस्पेक्टर इबरार अंसारी और हेड कांस्टेबल राम प्रताप सिंह हैं.



दो दिन पहले एसएसपी अभिषेक दीक्षित हुए थे सस्पेंड

आपको बता दें कि परसों ही मुख्यमंत्री ने प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को सस्पेंड कर दिया था. आईपीएस अभिषेक दीक्षित पर अपराध नियंत्रण में नाकामी, कानून व्यवस्था में शिथिलता और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं. इसके अलावा शासन और पुलिस मुख्यालय के निर्देशों का अनुपालन नहीं करने का भी उनपर आरोप है. साथ ही एसएसपी पर पोस्टिंग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिए जाने का भी गंभीर आरोप लगा है. बता दें कि 17 जून को पीलीभीत से उनका तबादला हुआ था और वह प्रयागराज के एसएसपी नियुक्त हुए थे. उन्‍हें डीजीपी मुख्‍यालय से संबद्ध कर दिया गया है. गृह विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि निलंबन की अवधि के दौरान अभिषेक दीक्षित, पुलिस महानिदेशक कार्यालय से संबद्ध रहेंगे.

सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी बने प्रयागराज के नए एसएसपी

अभिषेक दीक्षित की जगह सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को प्रयागराज का एसएसपी बनाया गया है. बता दें शासन ने मंगलवार को 6 आईपीएस का ट्रांसफर किया है. देवेश कुमार पांडे पुलिस उपायुक्त लखनऊ बनाए गए हैं, जबकि अखिलेश कुमार निगम पुलिस अधीक्षक विशेष अनुसंधान शाखा सहकारिता लखनऊ नियुक्त हुए हैं. इसके अलावा उन्नाव रेप केस में लापरवाही की दोषी पाई गईं आईपीएस पुष्पांजलि सिंह को भी एसपी रेलवे गोरखपुर के पद से हटाते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक रेलवे लखनऊ बनाया गया है. डॉ. मनोज कुमार को पुलिस उपमहानिरीक्षक पीएसी लखनऊ, गंगा नाथ त्रिपाठी को पुलिस उपमहानिरीक्षक भ्रष्टाचार निवारण संगठन लखनऊ और अखिलेश कुमार निगम को पुलिस अधीक्षक विशेष अनुसंधान शाखा, सहकारिता लखनऊ में तैनाती दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज