होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /A फॉर अर्जुन, B फॉर बलराम- अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल ने तैयार की अंग्रेजी की नई वर्णमाला

A फॉर अर्जुन, B फॉर बलराम- अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल ने तैयार की अंग्रेजी की नई वर्णमाला

Hindu Culture in Alphabet: अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल साहब लाल मिश्रा ने इंग्लिश के साथ ही हिंदी वर्णमाला भी तैया ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: अंजलि सिंह राजपूत

कानपुर. A से ऐपल B से ब्वॉय तो हमसब ने भी बचपन में पढ़ा है. आज भी स्कूलों में यही पढ़ाया जा रहा है. लेकिन अब अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल ने ऐसी वर्णमाला का प्रस्ताव तैयार किया है जिसके लागू होने के बाद स्कूलों में A से ऐपल के साथ ही बच्चे A से अर्जुन और B से ब्वॉय के साथ ही B ले बलराम भी पढ़ेंगे. इसी तरह G से गीता और R से रामायण भी पढ़ाया जाएगा.

इंग्लिश के साथ ही वह हिंदी वर्णमाला भी तैयार कर रहे हैं. निजी तौर पर उन्होंने इस प्रस्ताव को बनाकर कुछ महीने पहले ही प्रकाशकों और स्कूल प्रबंधकों के साथ प्रधानाचार्यों के पास भेजा है. सभी ने इसकी प्रशंसा भी की है. साथ ही ज्यादातर ने इसे अपने यहां लागू करने पर हरी झंडी भी दिखा दी है. अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल साहब लाल मिश्रा को पूरी उम्मीद है कि 2023 में अप्रैल से शुरू होने वाले नए सत्र में बच्चों की किताबों में यह परिवर्तन नजर आएगा.

आपके शहर से (लखनऊ)

आपत्ति हो तो होगा संशोधन

अमीनाबाद इंटर कॉलेज प्रिंसिपल साहब लाल मिश्रा ने बातचीत में बताया कि यह प्रस्ताव निजी तौर पर बनाया गया है. इसके पीछे उनका मकसद सिर्फ इतना था कि बच्चे सांस्कृतिक और पौराणिक सभ्यता से जुड़े रहे. अगर किसी को इस पर कोई आपत्ति है तो इसमें संशोधन भी किया जा सकता है. स्कूल एक ऐसा घर होता है जहां पर सभी धर्म-मजहब के लोग एक साथ पढ़ते हैं. एक ही साथ बैठते हैं. तो ऐसे में किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए. गौरतलब हो कि नवंबर माह की शुरुआत में कई मीडिया संस्थानों ने इस विद्यालय में A से ऐपल के साथ अर्जुन पढ़ाए जाने की खबरें प्रकाशित की थीं. जबकि साहब लाल प्रिंसिपल ने इसका यह कहते हुए खंडन किया था कि उनके स्कूल में कक्षा 6 से बच्चे पढ़ते हैं इसलिए इस वर्णमाला का प्रयोग प्राइमरी स्कूलों में किया जाना है.

Tags: Hinduism, Lucknow news, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें