उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हादसा: DGP बोले- हम सीबीआई जांच को तैयार

सुरक्षाकर्मियों के साथ न होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पीड़ितों ने पुलिसकर्मियों से कहा था कि जब जरूरत होगी तो आपको बुला लेंगे. यही वजह थी कि हादसे के समय सुरक्षाकर्मी उनके पास नहीं थे. क्योंकि पीड़िता ने खुद उन्हें आने से मना किया था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 10:51 AM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हादसा: DGP बोले- हम सीबीआई जांच को तैयार
डीजीपी ओपी सिंह की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 10:51 AM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के सड़क हादसे में घायल होने पर डीजीपी ओपी सिंह ने सोमवार को कहा कि प्रथम दृष्टया यह एक्सिडेंट का मामला प्रतीत हो रहा है, लेकिन पुलिस पूरे मामले की बारीकी से जांच कर रही है. डीजीपी ने कहा कि एक टीम गठित की गई है जो पूरे मामले की जांच कर रही है.

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि पीड़िता की सुरक्षा को लेकर 10 पुलिसकर्मियों को लगाया गया था. जिसमें से 7 पुलिसकर्मी हाउसगार्ड के रूप में लगे थे, जबकि 3 रेप पीड़िता के साथ रहते हैं. सुरक्षाकर्मियों के साथ न होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पीड़ितों ने पुलिसकर्मियों से कहा था कि जब जरूरत होगी तो आपको बुला लेंगे. यही वजह थी कि हादसे के समय सुरक्षाकर्मी उनके पास नहीं थे. क्योंकि पीड़िता ने खुद उन्हें आने से मना किया था.

सीबीआई जांच को तैयार

डीजीपी ने कहा कि रेप पीड़िता फ़िलहाल खतरे से बाहर है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पूरे मामले को गंभीरता से लिया है. अगर पीड़िता का परिवार सीबीआई जांच की मांग करता है तो हम तैयार हैं. सरकार पूरे मामले में निष्पक्ष जांच करा रही है.

गौरतलब है कि रेप पीड़िता के परिवार ने मामले में माखी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के इशारे पर एक्सीडेंट करवाने का आरोप लगाया है. पीड़िता की मां और भाई का आरोप है कि जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह के आदमियों ने इस घटना को अंजाम दिया है. पीड़िता के भाई ने मामले में सीबीआई जांच की मांग की है.

जेल में बंद चाचा से मिलकर लौट रही थी पीड़िता

उन्नाव रेप केस की पीड़िता रायबरेली में सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गई है. पीड़िता अपने परिजनों के साथ उन्नाव जेल में बंद चाचा से मिलने जा रही थी. इस दौरान ट्रक और कार की भिड़ंत हो गई. जिसमें पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई है. हादसे में कार के ड्राइवर की भी मौत हुई है. वहीं पीड़िता और वकील महेंद्र प्रताप सिंह को लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है. वहीं पीड़िता की बहन ने घटना के पीछे विधायक कुलदीप सेंगर के आदमियों का हाथ बताया.
Loading...

ये भी पढ़ें--

उन्नाव रेप कांड: एक्सीडेंट को वकील ने बताया संदिग्ध, बोले- पीड़िता के साथ नहीं थे सुरक्षाकर्मी

उन्नाव रेप कांड: ट्रक-कार की भिड़ंत में चाची और मौसी की मौत, पीड़िता की हालत गंभीर

 
First published: July 29, 2019, 10:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...