अयोध्या विवाद: श्रीश्री रविशंकर ने अभी तक किसी पक्ष से संपर्क नहीं किया: रंजना अग्निहोत्री

ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 14, 2017, 6:36 PM IST
अयोध्या विवाद: श्रीश्री रविशंकर ने अभी तक किसी पक्ष से संपर्क नहीं किया: रंजना अग्निहोत्री
आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर 16 नवंबर को अयोध्या जाएंगे.
ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 14, 2017, 6:36 PM IST
राम जन्मभूमि विवाद के शांतिपूर्ण हल की कोशिशों में जुटे आर्ट आॅफ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर 16 नवंबर को अयोध्या पहुंच रहे हैं. उधर उनकी इस कवायद पर सवाल भी उठ रहे हैं. हालांकि श्रीश्री रविशंकर ये साफ कर चुके हैं कि वे आलोचकों का मुंह बंद नहीं कर सकते.

श्रीश्री का कहना है कि राम जन्मभूमि का विवाद सिर्फ बातचीत से हल हो सकता है और इसके लिए वे प्रयासरत हैं. इसमें उनका कोई निजी एजेंडा नहीं है.

उधर इस मामले में रामलला विराजमान की वकील रंजना अग्निहोत्री ने मंगलवार को कहा​ कि श्रीश्री रविशंकर मामले में पार्टी नहीं हैं. यही नहीं उन्होंने अभी तक किसी भी पक्ष से संपर्क नहीं किया है.

रंजना ने कहा कि समझौता पार्टियों के बीच होता है. अभी तक सिर्फ टीवी पर समझौते की बात हो रही है.

उन्होंने कहा कि कोई भी समझौता सिर्फ जस्टिस डीवी शर्मा के फैसले के मुताबिक ही होगा. फैसले के मुताबिक वह ज़मीन राम जन्मभूमि है जिस पर तुरंत राम मंदिर बनना चाहिए.

(रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी)
First published: November 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर