Lockdown: कोटा के बाद अब नोएडा, दिल्ली व अलीगढ़ से भी छात्रों को उनके घर पहुंचाएगी योगी सरकार
Lucknow News in Hindi

Lockdown: कोटा के बाद अब नोएडा, दिल्ली व अलीगढ़ से भी छात्रों को उनके घर पहुंचाएगी योगी सरकार
प्रदेश की संपदा हैं प्रवासी मजदूर (फाइल फोटो)

लोकभवन में हुई टीम-11 की बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नोएडा के साथ दिल्ली से भी उत्तर प्रदेश के छात्र-छात्राओं को वापस लाने के लिए वहां की सरकार से संपर्क किया जाये.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 4:07 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) से करीब साढ़े 11 हजार छात्रों की घर वापसी कराने के बाद अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और अलीगढ़ में लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से फंसे छात्रों को वापस लाने की तयारी में है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने गुरुवार को टीम-11 के साथ हुई बैठक में अधिकारियों को इस संदर्भ में जरूरी दिशा-निर्देश देते हुए पूरा ब्यौरा देने को कहा है.

राजधानी लखनऊ स्थित लोकभवन में हुई टीम-11 की बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नोएडा के साथ दिल्ली से भी उत्तर प्रदेश के छात्र-छात्राओं को वापस लाने के लिए वहां की सरकार से संपर्क किया जाये. उन्होंने कहा कि नोएडा, गाजियाबाद और अलीगढ़ से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में वापस जाने वाले छात्रों की सूची तैयार कराई जाये. इन छात्रों का स्वास्थ्य परिक्षण कराते हुए उन्हें घर भेजने की व्यवस्था की जाए. मुख्यमंत्री ने कहा कि इन जनपदों में पढ़ने वाले अन्य राज्यों के छात्रों की सूची भी तैयार करते हुए इनके गृह राज्य भेजने के लिए संबंधित प्रदेश सरकार से संपर्क किया जाये. सीएम योगी ने इसके लिए भी अधिकारियों से कार्ययोजना तैयार करने को कहा है.

अब तक इतने लोगों को ला चुकी है सरकार



बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर राजस्थान के कोटा में फंसे करीब साढ़े 11 हजार छात्रों को पिछले दिनों बसों से उनके घर पहुंचाया गया था. बुधवार को मुख्यमंत्री ने खुद इन छात्रों से बातचीत की और उनका हाल-चाल जाना. साथ ही उन्होंने छात्रों से सुझाव भी मांगे. इसके अलावा योगी सरकार के आदेश के बाद करीब 15 हजार छात्रों को प्रयागराज से राज्य अलग-अलग जनपदों में उनके घर तक छोड़ा गया है. साथ ही हरियाणा से करीब 12 हजार श्रमिकों (मजदूरों) और कामगारों को निकालकर उनके गृह जनपद में क्वारंटाइन किया गया. चौदह दिन की अवधि पूरा होने के बाद सभी को घर जाने की अनुमति दी जाएगी.
फंसे मजदूरों से धैर्य रखने की अपील

उधर मुख्यमंत्री योगी ने गुरुवार को ट्वीट कर अन्य राज्यों में भी फंसे मजदूरों से धैर्य रखने की अपील की. उन्होंने कहा कि जो लोग जहां हैं, वहीं रहें, सरकार जल्द ही उनके लाने का प्रबंध करेगी. मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा है कि मजदूर और कामगार पैदल न चलें. राज्य सरकारों से वार्ता कर सभी फंसे हुए लोगों की वापसी के लिए कार्ययोजना बनाई जा रही है.

ये भी पढ़ें:

News 18 की खबर का असर: मेरठ मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन पाइपलाइन का टेंडर निरस्त

'मुल्क' से जुड़ा है ऋषि कपूर और यूपी का नाता, इन शहरों में हुई थी शूटिंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज