होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही का दावा UP के सभी किसानों को मिलेगा PM किसान सम्मान का लाभ

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही का दावा UP के सभी किसानों को मिलेगा PM किसान सम्मान का लाभ

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने ली समीक्षा बैठक

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने ली समीक्षा बैठक

कृषि मंत्री (Agriculture Minister) ने कहा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi) के लाभ से ...अधिक पढ़ें

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में गुरूवार को यूपी के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही (Agriculture Minister Surya Pratap Shahi) ने भारत सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी राष्ट्रीय कृषि विकास य़ोजना की वार्षिक समीक्षा बैठक की. साथ ही कृषि मंत्री ने news 18 के माध्यम से प्रधानमंत्री किसान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) का लाभ प्रत्येक पात्र किसान को दिलाने का दावा करते हुए उनसे अपने आधार कार्ड (Aadhar card) व बैंक डिटेल्स से संबंधित त्रुटियां जल्द ठीक करवाने की भी अपील की.

धीमी प्रगति पर जताया असंतोष
राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत इस वर्ष कृषि विभाग को 708.97 करोड़ रुपये किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य के साथ कृषि क्षेत्र पर व्यय करने के लिये मिले हैं. जिसके तहत इस वर्ष कृषि, पशुपालन, उद्यान, बागवानी, मधुमक्खी पालन और कृषि विश्विद्यालयों के साथ कुछ केन्द्रीय संस्थाओ की 561.62 करोड की योजनाओ को स्वीकृति प्रदान की गई है. इस योजना की धनराशि के व्यय के साथ संबंधित योजनाओं की प्रगति की कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने विभागवार कार्यदायी संस्थाओं के साथ समीक्षा की. जिसमें कार्यो की धीमी प्रगति पर असंतोष जताते हुए निर्गत राशि को 31 मार्च तक शत-प्रतिशत व्यय करके न सिर्फ उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने का निर्देश दिया बल्कि PM किसान सम्मान निधि के लाभ से वंचित सूबे के हर एक किसान को इसका लाभ दिलाने का दावा भी किया.

किसानों की आय को दोगुना करने का प्रयास
News 18 से बात करते हुए कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने बताया कि ‘राष्ट्रीय कृषि विकास य़ोजना के पैसे से सूबे के 181 विकास खंडो में 181 कृषि कल्याण केन्द्र बनाये जाने के साथ कृषि विभाग के फार्मों को भी व्यवस्थित किया जा रहा है. बीज निगम के बीज प्रोसेसिंग सेंटर का आधुनिकीकरण कर जालौन, अलीगढ़, बुलंदशहर और गोरखपुर समेत 5 जिलों में सीड प्रोसेसिंग प्लांट लगाया जा रहा है और साथ ही लखीमपुर, सीतापुर, मेरठ, हापुड़, जालौन, ललितपुर, इटावा और बाराबंकी के फार्मों पर गाय और बकरीपालन के क्ष्रेत्र में शोध और नस्ल सुधार के साथ चिकित्सा सुविधा भी मुहैया कराई गई है. कृषि शिक्षा के क्षेत्र में दीन दयाल वेटनरी विश्वविद्यालय मथुरा व नरेन्द्र देव कृषि विश्वविद्यालय, अयोध्या के साथ ही मेरठ जैसे विश्वविद्यालयों में करोड़ों की लागत से न सिर्फ कई अहम प्रोजेक्ट्स चलाये जा रहे हैं. बल्कि रेशम व मछलीपालन के क्षेत्र में भी कई योजनाओ को चलाये जाने के साथ ही किसानों को प्रशिक्षण और सुविधाएं मुहैया कराकर PM मोदी की मंशा के तहत किसानों की आय को दोगुना करने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है.’

किसानों से अपील
कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने सभी किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ न मिलने से जुड़े news 18 के सवाल का जवाब हुए कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लाभ से वंचित सूबे के हर एक किसान को इसका लाभ दिलाया जायेगा. उन्होंने कहा किसानों से मेरी अपील है कि वे अपना आधार कार्ड और बैंक के अकाउंट को ठीक करा लें. इसके लिये हर विकास खंड, तहसील और डिप्टी डायरेक्टर कार्यालय में कृषि विभाग के कर्मचारी बैठाये गये हैं. जिन बैंको के जरिये प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का पैसा दिया जा रहा है उन बैंको से संबधित किसान का किसान क्रेडिट कार्ड भी बनाने का निर्देश दिया गया है. 1 लाख 60 हजार रुपये तक के किसान क्रेडिट कार्ड के लिये आधार कार्ड के सिवा किसी भी तरह के दस्तावेज की जरूरत नहीं है. किसान इस राशि का कृषि या पशुपालन में निवेश कर अधिक लाभ हासिल कर सकेगा.’

ये भी पढ़ें- सरकारी योजनाओं के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला शातिर चढ़ा UP STF के हत्थे...

आपके शहर से (लखनऊ)

Tags: Aadhar card, Farmer, Kisan credit card, Pradhan Mantri Gramin Awas Yojna

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें