LIVE NOW

मायावती का सम्मान मेरा सम्मान है, उनके खिलाफ कुछ भी बर्दाश्त नहीं- अखिलेश

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से जुड़े अपडेट्स के लिए बने रहें...

Hindi.news18.com | January 12, 2019, 3:23 PM IST
facebook Twitter google Linkedin
Last Updated January 12, 2019
बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लखनऊ में संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे हैं. मायावती ने दोनों दलों के गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा कि दोनों पार्टियां 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. वहीं पार्टी ने दो सीटों आरएलडी के लिए छोड़ी हैं. मायावती ने कहा कि वे कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेंगे लेकिन अमेठी और रायबरेली कांग्रेस के लिए छोड़ रहे हैं. बता दें कि अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और रायबरेली से यूपीए प्रमुख सोनिया गांधी चेयरमैन हैं.

बता दें कि इससे पहले अखिलेश यादव ने पिछले शुक्रवार को दिल्ली स्थित मायावती के आवास पर आकर मुलाकात की थी.

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से जुड़े अपडेट्स के लिए बने रहें...
2:28 pm (IST)

2014 से पहले देश उस स्थिति में था जब बैंकों में अपना पैसे जमा करने वालों की कोई कद्र नहीं थी. जिनके पास जनता के पैसे की रक्षा की जिम्मेदारी थी, वो ही जनता का पैसा लुटा रहे थे, कांग्रेस की सरकार में जनता का पैसा घोटालेबाजों को लोन के रूप में दिया जा रहा था. कांग्रेस के समय लोन लेने के दो तरीके थे। एक था कॉमन प्रोसेस और दूसरा कांग्रेस प्रोसेस. कॉमन प्रोसेस में आप बैंक से लोन मांगते थे और कांग्रेस प्रोसेस में बैंकों को कांग्रेस के घोटालेबाज मित्रों को लोन देने के लिए मजबूर किया जाता था. आजादी से लेकर 2008 तक 60 सालों में बैंकों ने मात्र 18 लाख करोड़ रुपये का लोन दिया था। लेकिन 2008 से 2014 तक ये आंकड़ा बढ़कर 52 लाख करोड़ हो गया यानी कांग्रेस के आखरी 6 साल में 34 लाख करोड़ के लोन दिए गए : पीएम मोदी 

2:08 pm (IST)

इतने सारे लोगों का स्वेच्छा से रियायतें छोड़ देना, उद्यमियों का जीएसटी से जुड़ते जाना और आयकर भरने वालों की संख्या में जुड़ते जाना. यह इसलिए हो रहा है कि देश के निर्माण में हर कोई आगे आ रहा है. भाजपा सरकार के कार्यकाल ने ये साबित किया है कि देश सामान्य नागरिक के हित में बदल सकता है. भाजपा सरकार के कार्यकाल ने ये साबित किया है कि सरकार बिना भ्रष्टाचार के भी चलाई जा सकती है और सत्ता के गलियारों में टलहने वाले दलालों को भी बाहर किया जा सकता है. भाजपा की सरकार का मूलमंत्र है सबका साथ-सबका विकास और एक भारत-श्रेष्ठ भारत। जब हम एक भारत-श्रेष्ठ भारत की बात करते हैं तो उनमें क्षेत्रीय अस्मिताओं और आकांक्षाओं के लिए पूरा स्थान है: पीएम मोदी

LOAD MORE