होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP chunav 2022: योगी-मोदी और अखिलेश के बीच जुबानी जंग, ट्विटर वार, जुमलों की बौछार

UP chunav 2022: योगी-मोदी और अखिलेश के बीच जुबानी जंग, ट्विटर वार, जुमलों की बौछार

यूपी विधानसभा चुनाव पास आए तो समाजवादी पार्टी और बीजेपी के बीच जुबानी हमले तेज हो गए.

यूपी विधानसभा चुनाव पास आए तो समाजवादी पार्टी और बीजेपी के बीच जुबानी हमले तेज हो गए.

UP Vidhan sabha chunav: यूपी विधानसभा चुनाव पास आए तो समाजवादी पार्टी और बीजेपी के बीच जुबानी हमले तेज हो गए. इस जंग में एक तरफ अखिलेश यादव हैं तो दूसरी तरफ योगी-मोदी की जोड़ी है. बीच-बीच में अमित शाह भी अपने सियासी तीर छोड़ रहे हैं. जुबानी जंग अनोखे तंजों के साथ तीखी और मनोरंजक भी हो रही है. जनसभाओं के साथ ट्विटर पर भी सियासी गर्माहट बढ़ती ठंड में लोगों के बीच चुनावी माहौल बना रही है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. यूपी के चुनाव (UP Election) में आमने-सामने जंग लड़ रहीं दो पार्टियों के नेताओं के बीच जमकर जुबानी जंग तेज हो रही है. एक तरफ से हमला होता ही है कि दूसरी तरफ से जवाबी वार भी हो जा रहा है. इस जंग में एक तरफ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) हैं तो दूसरी तरफ योगी-मोदी की जोड़ी है. इसमें बीच-बीच में अमित शाह भी अपने तीर छोड़ रहे हैं. जुबानी जंग अनोखे तंजों के साथ तीखी और मनोरंजक भी हो रही है.

मंगलवार को हरदोई में अमित शाह ने रैली के दौरान ABCD का फार्मूला पेश किया. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं के लिए ABCD का मतलब A- अपराध और आतंक, B- भाई और भतीजावाद, C- करप्शन और D- दंगा है.

https://twitter.com/AmitShah/status/1475755250413817856

उनके इस तीर का अखिलेश यादव ने तुरंत ही जवाब दे दिया. अखिलेश यादव ने कहा कि ABCD का मतलब A – अब B- भाजपा C- छोड़ D- दी. अखिलेश ने ट्वीट करके कहा कि हाथरस, लखीमपुर, गोरखपुर, आगरा कांड जैसे अन्य कांडों की वजह से अब तो भाजपा के समर्थक भी भाजपा के ख़िलाफ़ खड़े होकर कह रहे हैं ABCD.

https://twitter.com/yadavakhilesh/status/1475766542243672068

अखिलेश यादव और सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच तो जुबानी जंग चलती रहती है लेकिन, ताजा मामला एकदम अनोखा है. अखिलेश यादव अमूमन हर रैली में ‘चीलमजीवी’ शब्द का प्रयोग करते हैं. वे कहते हैं कि सीएम हाउस में धुंए के धब्बे दिख जायेंगे. उनके इस वार पर योगी आदित्यनाथ ने सीतापुर में जबरदस्त पलटवार किया. उन्होंने कहा कि ये 12 बजे जगने वाले लोग अपनी जेब में बोतल लेकर घुमते हैं और वो भी स्वीडन का. बताने की जरूरत नहीं कि दोनों नेताओं ने एक दूसरे के लिए जनता से क्या कहना चाहा है.

इससे पहले पीएम मोदी ने मंत्र दिया था यूपी प्लस योगी बराबर उपयोगी (UP+YOGI=UPYOGI). उनके इस बयान के तत्काल बाद अखिलेश यादव ने हमला बोल दिया. उन्होंने कहा कि सीएम योगी यूपी के लिए उपयोगी नहीं है बल्कि अनुपयोगी है.

बात थोड़ी पुरानी भले हो गई लेकिन, वो भी इसी जंग का हिस्सा रही है. अमित शाह ने अपनी एक रैली में जैम का नारा दिया था. JAM का मतलब उन्होंने समझाते हुए कहा था कि हमारे लिए J – जनधन अकाउण्ट, A आधार कार्ड और M – मोबाइल फोन है, जबकि सपा के लिए J- जिन्ना, A- आजम खान और M – मुख्तार अंसारी है. योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव के बीच बाबा और बबुआ का किस्सा भी काफी प्रचलित रहा है.

Tags: Akhilesh yadav, UP Election Rally, UP Election Twitter Attack, UP news, Yogi adityanath

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर