प्रियंका के बाद अखिलेश ने भी ट्वीट करके उठाई यूपी के शिक्षा मित्रों की समस्या

अखिलेश यादव फाइल फोटो

अखिलेश यादव फाइल फोटो

साल 2015 में, उत्तर प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में लगभग दो लाख संविदा शिक्षकों को झटका लगा जब इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 'शिक्षा मित्र' को नियमित करने और उन्हें सहायक अध्यापक नियुक्त करने के राज्य सरकार के कदम को अवैध घोषित कर दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2019, 11:00 AM IST
  • Share this:
जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं सियासी घमासान भी तेज होता जा रहा है. इसी सियासी घमासान की कड़ी में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर भाजपा सरकार पर हमला किया. उन्होंने ट्वीट करते हुए  यूपी के शिक्षा मित्र, यूपी बीपीएड, यूपीटीआईटी 2011, यूपी शिक्षा प्रेरक समेत 10 लोगों से जुड़े रोजगार की समस्या का संदेश साझा किया है. अखिलेश ने कहा, 'खूब जमेगा रंग! जब मिल बैठेंगे संग!'



बता दें सहायक शिक्षकों के रूप में बेहतर वेतन और नियुक्ति की मांग करते हुए, शिक्षामित्रों ने अक्सर अपनी शिकायतों को उठाया है. साल 2015 में, उत्तर प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में लगभग दो लाख संविदा शिक्षकों को झटका लगा जब इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 'शिक्षा मित्र' को नियमित करने और उन्हें सहायक अध्यापक नियुक्त करने के राज्य सरकार के कदम को अवैध घोषित कर दिया था.









आपको बता दें कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में भी सात चरणों में वोटिंग होनी है. पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को, दूसरे चरण के लिए 18 अप्रैल, तीसरे चरण के लिए 23 अप्रैल, चौथे चरण के लिए 29 अप्रैल, पांचवें चरण के लिए 6 मई, छठे चरण के लिए 12 मई और सातवें चरण के लिए वोटिंग 19 मई को होगी. नतीजे 23 मई को आएंगे.
ये भी पढ़ें:



गाजियाबाद: बदमाशों ने रिटायर्ड दारोगा और प्रॉपर्टी डीलर को गोलियों से भूना



हेमा मालिनी आज मथुरा सीट से दाखिल करेंगी नामांकन, CM योगी भी होंगे शामिल



आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर रोडवेज की AC बस में लगी आग, 4 यात्रियों की मौत



लोकसभा चुनाव: सोशल मीडिया से चुनावी जंग लड़ रहे हैं राजनीतिक दल, 'Twitter' का सबसे अधिक इस्तेमाल



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज