Assembly Banner 2021

मायावती के बाद अखिलेश का कांग्रेस पर हमला, बोले- BJP को हराने में सक्षम है गठबंधन

अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

17 मार्च को लखनऊ में कांग्रेस मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस करते हुए प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा था कि गठबंधन द्वारा अमेठी और रायबरेली में प्रत्याशी न उतारने के एवज में कांग्रेस भी सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ेगी.

  • Share this:
बसपा सुप्रीमो मायावती के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी कांग्रेस पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी और आरएलडी का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है. कांग्रेस पार्टी किसी तरह का कन्फ्यूजन न पैदा करे. इससे पहले सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए उत्तर प्रदेश में सात सीटें छोड़ने के कांग्रेस के ऐलान पर बसपा सुप्रीमो मायावती बुरी तरह भड़क गईं. यहां तक कि मायावती ने ट्विटर पर ऐलान कर दिया कि कांग्रेस के साथ यूपी तो क्या देश के किसी भी हिस्से में भी गठबंधन नहीं करेंगी.

मायावती ने दो टूक कहा कि गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़कर कांग्रेस यह भ्रम न फ़ैलाए कि उसका बसपा से कोई तालमेल है. दरअसल, 17 मार्च को लखनऊ कांग्रेस मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस करते हुए प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा था कि गठबंधन द्वारा अमेठी और रायबरेली में प्रत्याशी न उतारने के एवज में कांग्रेस भी सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ेगी.





राजबब्बर ने कहा था कि कांग्रेस मैनपुरी, कन्नौज और फिरोजाबाद में प्रत्याशी नहीं उतारेगी. इसके अलावा मायावती और अखिलेश जहां से मैदान में होंगे वहां भी कांग्रेस प्रत्याशी नहीं उतारेगी. इसके अलावा रालोद के अजीत सिंह और जयंत चौधरी के खिलाफ भी प्रत्याशी नहीं उतारने का ऐलान किया है.
(रिपोर्ट: नरेंद्र यादव)

ये भी पढ़ें:

दुमदमा घाट पर प्रियंका गांधी बोलीं: मेरे भाई राहुल गांधी जो बोलते हैं, वह करते हैं

PM मोदी के ‘मन की बात’ के मुकाबले प्रियंका गांधी की छात्रों से ‘सांची बात’

आगरा: जानिए ये जालसाज कैसे लगाता था बैंकों को करोड़ों का चूना

VIDEO: डायल 100 पर फोन कर इस शख्स ने मांगी पुलिसवालों से लिफ्ट, बोला- मुझे घर छोड़ दो

बड़े हनुमान के दरबार में पूजा अर्चना के बाद संगम तट पहुंचीं प्रियंका गांधी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज