अखिलेश यादव का BJP पर हमला, 5 सालों से जनता को ‘अप्रैल फूल’ बना रही है मोदी सरकार

अखिलेश यादव (फाइल फोटो)
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज किया है. उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला करने के लिए 1 अप्रैल के ‘अप्रैल फूल दिवस’ को माध्यम बनाया है.

  • Share this:
समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज किया है. उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला करने के लिए 1 अप्रैल के ‘अप्रैल फूल दिवस’ को माध्यम बनाया है. अखिलेश ने लिखा है कि केंद्र में सत्ताधारी भाजपा की सरकार ‘अच्छे दिन’ लाने का और अच्छे दिन आएंगे, का वादा करके पिछले 5 सालों से जनता को ‘अप्रैल फ़ूल’ बना रही है.



इससे पहले 28 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपा-बसपा-रालोद के गठबंधन को ‘सराब’ बताए जाने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पलटवार किया था. अखिलेश यादव ने कहा था कि नफरत के नशे को बढ़ावा देने वाले सराब और शराब का अंतर नहीं जानते. उन्होंने कहा कि था सराब को मृगतृष्णा भी कहते हैं और यह वह धुंधला सा सपना है जो बीजेपी 5 साल से दिखा रही है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 मार्च को उत्तर प्रदेश के मेरठ से चुनावी अभियान का आगाज करते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा था. पीएम मोदी ने कहा था कि एक तरफ चौकीदार है तो दूसरी तरफ महामिलावट और दागदारों की भरमार है. इस दौरान प्रधानमंत्री सपा-बसपा-रालोद के गठबंधन को 'सराब' बताया था. उन्होंने कहा था कि 'सराब' सेहत के लिए हानिकारक है.



पीएम मोदी के बयान पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पलटवार करते हुए ट्वीट किया था, "आज टेली-प्रॉम्प्टर ने यह पोल खोल दी कि सराब और शराब का अंतर वह लोग नहीं जानते जो नफ़रत के नशे को बढ़ावा देते हैं. सराब को मृगतृष्णा भी कहते हैं और यह वह धुंधला सा सपना है जो भाजपा 5 साल से दिखा रही है लेकिन जो कभी हासिल नहीं होता. अब जब नया चुनाव आ गया तो वह नया सराब दिखा रहे हैं."

ये भी पढ़ें -

खेत में गेहूं की फसल काटकर, बोझा बांधकर हेमा मालिनी ने शुरू किया अपना चुनाव प्रचार

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज