Home /News /uttar-pradesh /

akhilesh yadav attacks on bjp over costliness and increased gst nodnc

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने BJP पर साधा निशाना, कहा- मंहगाई डायन खा रही है...

अखिलेश यादव बोले जीएसटी की दरें बढ़ाकर आम जनता को बीजेपी सरकार ने कही का नहीं छोड़ा.

अखिलेश यादव बोले जीएसटी की दरें बढ़ाकर आम जनता को बीजेपी सरकार ने कही का नहीं छोड़ा.

Akhilesh on BJP: मंहगाई को लेकर अखिलेश का कहना था कि बढ़ती महंगाई के कारण विदेशों में पढ़ाना, विदेश यात्रा करना सब मुश्किल हो गया है. खाद, बीज, कृषि यंत्र सभी महंगे हैं. मोबाइल, कार खरीदना महंगा हो गया है. व्यापार घाटा बढ़ गया है.

हाइलाइट्स

महंगाई को लेकर अखिलेश यादव ने जारी किया लिखित बयान.
भाजपा पर लगाए आरोप, कहा बिगाड़ दी अर्थव्यवस्था.

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर भाजपा पर निशाना साधा है. अखिलेश यादव ने कहा है कि महंगाई की मार से जनता की बुरी हालत है. जनता जितनी परेशानी में है हुक्मरान उतने ही बेफिक्र दिखाई दे रहे हैं. गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों का बुरा हाल है. घरेलू अर्थव्यवस्था चौपट है लेकिन भाजपा सरकार की संवेदनहीनता कम होने का नाम नहीं ले रही है. भाजपा सरकार में एक डॉलर के मुकाबले रुपया 80 के पार हो गया है इससे अर्थव्यवस्था पर भारी दबाव पड़ रहा है. भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए अखिलेश ने लिखित में एक बयान जारी किया है.

गरीब को और बना रहे गरीब

मंहगाई को लेकर अखिलेश का कहना था कि बढ़ती महंगाई के कारण विदेशों में पढ़ाना, विदेश यात्रा करना सब मुश्किल हो गया है. खाद, बीज, कृषि यंत्र सभी महंगे हैं. मोबाइल, कार खरीदना महंगा हो गया है. व्यापार घाटा बढ़ गया है. आयात महंगा हो जाने से देश की आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर हो गई है. अखिलेश यादव ने लिखित में जारी अपने बयान में कहा है कि भाजपा सरकार उत्तर प्रदेश में 1 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था लाने की जिद में गरीब को और गरीब बना रही है.

घर का बजट बिगाड़ दिया

अखिलेश का मानना है कि भाजपा पौष्टिक आहार पर जीएसटी की दरें बढ़ाकर आम जनता को प्रताड़ित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है. भाजपा सरकार पैकेज्ड और लेबल वाली दही, लस्सी, पनीर, शहद, मांस, मछली सहित आटा चक्की, दाल, चीनी, एलईडी लैंप और लाईट्स के साथ चेक बुक, होटल के कमरे आदि सभी पर जीएसटी दरें बढ़ाकर जनजीवन मुश्किल बनाकर जनता का शोषण कर रही है. महंगाई की तपिश से परेशान लोगों का जिस तेजी से बजट बढ़ा है, उस अनुपात में आय नहीं बढ़ी है. इससे लोगों की घरेलू अर्थव्यवस्था बिगड़ गई है. इस भीषण महंगाई में जीवनयापन करना मुश्किल हो गया है.

अखिलेश ने यह भी कहा है कि महीने के राशन का खर्च लगभग 100 फीसदी बढ़ गया है. बैंकों ने लोन पर ब्याज की दरें बढ़ा दी हैं. भाजपा सरकार की आर्थिक नीतियां इसकी जिम्मेदार हैं. भाजपा ने गरीबों, मध्यमवर्ग को राहत देने के बजाय बड़े पूंजीघरानों को तमाम रियायतें देने का काम अब तक किया है. ऐसी जनविरोधी सरकार को पीड़ितजन कब तक बर्दाश्त करेंगे?

Tags: Akhilesh yadav, BJP, Lucknow news, Samajwadi party

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर