लाइव टीवी

बीजेपी को अखिलेश यादव की खुली चुनौती, बोले- जब चाहें, जहां चाहें विकास के मुद्दे पर कर लें बहस
Lucknow News in Hindi

Alauddin | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 22, 2020, 1:07 PM IST
बीजेपी को अखिलेश यादव की खुली चुनौती, बोले- जब चाहें, जहां चाहें विकास के मुद्दे पर कर लें बहस
अखिलेश ने कहा बीजेपी को तानाशाही वाली पार्टी बताया (फ़ाइल तस्वीर)

अखिलेश यादव ने कहा कि लेकिन बहस का मुद्दा विकास होगा, नौकरियां होंगी, किसानों के मुद्दे होंगे, नौजवानों के मुद्दे होंगे.

  • Share this:
लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बुधवार को लखनऊ (Lucknow) में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) जब चाहें तब वह विकास के मुद्दे पर उनसे बहस करने को तैयार हैं. बीजेपी हमको जगह और मंच के बारे में बता दे, हम खुद ही वहां बहस के लिए पहुंच जाएंगे.

अखिलेश यादव ने कहा कि लेकिन बहस का मुद्दा विकास होगा, नौकरियां होंगी, किसानों के मुद्दे होंगे, नौजवानों के मुद्दे होंगे. अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाया और कहा कि बीजेपी लगातार मुद्दों से भटकाने की राजनीति कर रही है. खासतौर से पूरे देश को जाति और धर्म के नाम पर बांटकर नफरत फैला रही है.

छोटे लोहिया को बताया समाज में खाई पाटने वाला नेता

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रहे जनेश्वर मिश्र की मिश्रा की 10वीं पुण्यतिथि के मौके पर उन्हें याद करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि "समाज में समानता के लिए छोटे लोहिया ने संघर्ष किया. समाज में खाई को पाटने का काम किसी ने किया तो वे छोटे लोहिया ही थे. जो रास्ता छोटे लोहिया ने दिखाया उसी रास्ते पर हम चलेंगे."

BJP की भाषा लोकतांत्रिक नहीं

अमित शाह के CAA पर दिए बयान पर अखिलेश यादव ने कहा कि जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल हो रहा है वो राजनीति करने वालों की भाषा नहीं है. यहां "ठोक देंगे" और "ज़ुबान खींच" लेंगे जैसी भाष का इस्तेमाल बीजेपी कर रही है. सपा ही सिर्फ CAA का विरोध नहीं कर रही है, बल्कि महिलाओं ने भी इसका विरोध किया है. धर्म के नाम पर नागरिकों के साथ भेदभाव कब तक बीजेपी वाले करेंगे. वोट के लिए भारत की आत्मा को क्यों खत्म कर रही है बीजेपी? बहुमत से बीजेपी आम लोगों की आवाज नहीं दबा सकती है.

अखिलेश यादव ने जातीय जनगणना की मांग कीअखिलेश यादव ने कहा कि जातीय जनगणना से बीजेपी क्यों डर रही है. अगर जातीय जनगणना हो जाये तो हिन्दू-मुस्लिम का झगड़ा खत्म हो जाएगा.

ये भी पढ़ें:

30 जनवरी तक राम मंदिर ट्रस्ट की घोषणा, अयोध्या के ये संत बन सकते हैं अध्यक्ष

यूपी में अब बियर की दुकानों में मिलेगी Wine, 2 करोड़ किसानों को बीमा की सौगात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 1:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर