Home /News /uttar-pradesh /

akhilesh yadav jibe at bjp said up among 3 poorest states as per niti aayog mpi ranking nodark

अखिलेश यादव का MPI रैंकिंग को लेकर भाजपा पर तंज, बोले- ये सरकार की नाकामी के तमगे

नीति आयोग की रैंकिंग को लेकर अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा है.

नीति आयोग की रैंकिंग को लेकर अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा है.

MPI Ranking: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने नीति आयोग की पहली एमपीआई रैंकिंग (Multidimensional Poverty Index Ranking) को लेकर यूपी सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍हाोंने ट्वीट किया, ' एमपीआई रैंकिंग में उत्तर प्रदेश देश के सबसे गरीब तीन राज्यों में शामिल है. वहीं, सबसे अधिक कुपोषण में राज्य तीसरे स्थान पर है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. यूपी की सियासत में नीति आयोग की पहली बहुआयामी गरीबी सूचकांक रैंकिंग (Multidimensional Poverty Index Ranking) को लेकर हंगामा मचा हुआ है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सोमवार को बहुआयामी गरीबी सूचकांक (एमपीआई) रैंकिंग में उत्तर प्रदेश की ‘सबसे खराब स्थिति’को लेकर राज्य की भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधा है. साथ ही उन्‍होंने दावा किया कि राज्य देश के सबसे तीन गरीब राज्यों में शामिल है.

सपा प्रमुख ने एक ट्वीट में कहा, ‘भाजपा के राज में नीति आयोग के पहली बहुआयामी गरीबी सूचकांक (एमपीआई) रैंकिंग में उत्तर प्रदेश देश के सबसे गरीब तीन राज्यों में शामिल है. सबसे अधिक कुपोषण में राज्य तीसरे स्थान पर है, तो बाल एवं किशोर मृत्यु दर की श्रेणी में राज्य की स्थिति पूरे देश में सबसे खराब है.’

अखबार की क्लिपिंग भी ट्वीट में की साझा
यही नहीं, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि ये भाजपा सरकार की नाकामी के तमगे हैं. उन्होंने एक अखबार की क्लिपिंग भी ट्वीट में साझा की, जिसमें दावा किया गया है कि उत्तर प्रदेश देश के सबसे गरीब राज्यों में से एक है.

UP MLC Election: जानें कौन हैं शिल्‍पा प्रजापति? जिन पर सपा ने सुल्‍तानपुर से खेला है दांव

नीति आयोग की एमपीआई रैंकिंग के मुताबिक, बिहार की 51.91 फीसदी, झारखंड की 42.16 फीसदी और यूपी की 37.79 फीसदी जनसंख्‍या गरीब है.  रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्र शासित प्रदेश में दादरा और नगर हवेली में सबसे ज्यादा 27.36 फीसदी गरीबी है. वहीं, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 12.58 प्रतिशत, तो दिल्ली में यह आंकड़ा 4.79 फीसदी है.

Tags: Bjp government, Niti Aayog, Samajwadi party

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर