होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /योगी के 'खुशखबरी' वाले बयान पर अखिलेश बोले- CM को कैसे पता सुप्रीम कोर्ट में क्या होगा?

योगी के 'खुशखबरी' वाले बयान पर अखिलेश बोले- CM को कैसे पता सुप्रीम कोर्ट में क्या होगा?

अखिलेश ने उठाए सीएम योगी पर सवाल

अखिलेश ने उठाए सीएम योगी पर सवाल

अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने रविवार को मीडिया के एक सवाल पर कहा कि मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi Adityanath) अयोध्या माम ...अधिक पढ़ें

    लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने अयोध्या मामले को लेकर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के बयान पर सवाल खड़ा कर दिया. अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्री को कैसे मालूम है कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में क्या होने वाला है? अखिलेश यादव, सीएम के उस बयान का जिक्र कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि अयोध्या को लेकर बहुत जल्द 'बड़ी खुशखबरी' मिलने वाली है.

    अखिलेश ने रविवार को मीडिया के एक सवाल पर कहा कि मुख्यमंत्री योगी अयोध्या मामले में जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने की बात कर रहे हैं. आखिर उन्हें कैसे पता है कि क्या होने वाला है?

    अखिलेश ने कहा, 'भाजपा संविधान और देश के कानून पर कम भरोसा करती है. हमने हमेशा यही कहा कि अदालत जो फैसला लेगी उसे पूरा देश मानेगा. सवाल यह है कि एक अखबार को कैसे वो चीजें पता हैं? मुख्यमंत्री को कैसे पता है कि क्या होने वाला है?'


    योगी बोले 'बड़ी खुशखबरी' मिलने वाली है
    मुख्यमंत्री योगी ने ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ जी महाराज की स्मृति में गोरखपुर के चम्पादेवी पार्क, तारामंडल में आयोजित रामकथा में हिस्सा लिया था. इस दौरान उन्होंने राम मंदिर मुद्दे की तरफ इशारा करते हुए कोई नाम लिए बिना कहा था कि बहुत जल्द 'बड़ी खुशखबरी' मिलने वाली है.

    डीजे से जुड़े लोग हुए बेरोजगार
    अखिलेश ने प्रदेश सरकार पर डीजे बजाने के कारोबार से जुड़े एक करोड़ लोगों को बेरोजगार करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा और अन्य धार्मिक आयोजनों में डीजे पर कोई प्रतिबंध न होने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री योगी की सरकार ने डीजे पर पाबंदी लगा दी है.

    अखिलेश ने कहा, 'देश को आजाद कराने वाले लोगों ने संकल्प लिया था कि हम विदेशी चीजों को नहीं अपनाएंगे. मगर सरकार तो निजीकरण में ही लगी हुई है. यह तो शुरुआती निजीकरण है. अभी आगे देखिये क्या-क्या होगा. दलितों को नौकरी और रोजगार के मौकों से दूर कर दिया जाएगा.'


    कुपोषण के मामले में नम्बर एक पर है यूपी
    पूर्व मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती पर आयोजित विधानमण्डल के 36 घंटे के अनवरत सत्र पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि सरकार ने इस दौरान सदन में विभिन्न विकास परियोजनाओं को लेकर तमाम झूठ बोले हैं. अखिलेश आगे बोले कि आज आलम यह है कि नीति आयोग की रैंकिंग के मुताबिक उत्तर प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में सबसे नीचे और कुपोषण के मामले में नम्बर एक पर पहुंच गया है.
    (एजेंस इनपुट के साथ)

    ये भी पढ़ें:

    केशव प्रसाद मौर्य बोले, खत्म होने वाली है राम भक्तों की प्रतीक्षा

    मेरठ के आईआईएमटी ग्राउंड में दौड़ लगा रहे नोएडा के छात्र की हार्ट अटैक से मौत

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Akhilesh yadav, Lucknow news, Ram Mandir Dispute, Supreme Court, Yogi adityanath

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें