अखिलेश यादव का बड़ा आरोप- CAA Protest के दौरान पुलिस की गोली से गई सभी की जान
Lucknow News in Hindi

अखिलेश यादव का बड़ा आरोप- CAA Protest के दौरान पुलिस की गोली से गई सभी की जान
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने योगी सरकार (Yogi government) पर जमकर निशाना साधते हुए  कहा कि 'सीएम योगी (CM Yogi) को कोटा (Kota) में बच्चों की मौत की फिक्र है, लेकिन गोरखपुर (Gorakhpur) में बच्चों की मौत की फिक्र नहीं.

  • Share this:
लखनऊ. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने केंद्र की मोदी व उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (yogi government) पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश यादव का कहना था कि BJP जान-बूझकर रोजगार जैसे मुख्य मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिये CAA/NRC पर बहस कराने की बात कर रही है. उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि "CAA/NRC Protest दौरान जितने लोगों की भी जान गई है, वो पुलिस की गोली से गई है. उनके परिवारों से पोस्टमार्टम रिपोर्ट छिपाई जा रही है. ये सरकार पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी बदलवा सकती है". अखिलेश ने गोरखपुर में 1000 से अधिक बच्चों की मौत हो जाने का दावा कर योगी सरकार को जमकर आड़े हाथों लिया.

लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अखिलेश यादव ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि 'सीएम को कोटा में बच्चों की जान की फ्रिक्र है, लेकिन गोरखपुर में 1000 से अधिक बच्चों की जान जाने की फिक्र नहीं है. आंकड़ें छुपाने के लिए इंसेफेलाइटिस की दवा न देकर गलत दवा दिये जाने से 1000 से अधिक बच्चों की जान चली गई है. गोरखपुर में सरकार के दबाव में बच्चों को गलत दवा देने का अमानवीय कार्य किया जा रहा है. हम जल्द ही गोरखपुर में बच्चों की मौत से जुड़ी सूची जारी करेंगे.'

पाकिस्तान जाने की सलाह पर बोले अखिलेश
अखिलेश यादव ने इस दौरान खुद को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष द्वारा पाकिस्तान जाने की दी गई सलाह पर पलटवार करते हुए कहा कि "कहीं किसी की रिश्तेदारी हो तो बता दें, हम वहां हो आएं. उन्होंने कहा कि हमने 'हमें नही चाहिए NPR, हमें चाहिए रोजगार' का नारा दिया जबकि BJP जानबूझ कर CAA/NRC पर बहस करके देश को मुद्दे से भटकाना चाहती है. BJP ने देश और संविधान की भावना के साथ खिलवाड़ किया है".
अखिलेश ने आगे बोलते हुए कहा कि 'पूरा देश जानता है कि बीजेपी अपना राजनैतिक हित पूरा करने के लिये समाज को बांटने जैसे फैसले लेती है. सपा कभी भी पक्ष में नहीं रही. जितने लोगों की जान गई है, वो पुलिस की गोली से गई है. उनके परिवारो से पोस्टमार्टम रिपोर्ट छिपाई जा रही है. ये सरकार पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी बदलवा सकती है.



उन्होंने कहा कि इस सरकार ने नोटबंदी के बहाने देश को गुमराह कर देश की अर्थव्यवस्था और बैंकिंग सिस्टम को ICU में पहुंचा दिया है. बढ़ती मंहगाई को छिपाना चाहते हैं. बिजली की दर बढा दी गई. बहुत जल्द सपा के युवा साइकिल चलाकर रोजगार मांगने के साथ 'हम नही भरेंगे NPR, हम नौजवान मांगेंगे रोजगार' का नारा लगायेंगे. क्योंकि NPR गरीबो और मुसलमानों के खिलाफ है.

ये भी पढ़ें- सपा नेता का वादा- सत्ता में आए तो CAA का विरोध करने वालों को देंगे पेंशन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading