शिवपाल ने किया मोर्चा का ऐलान: अखिलेश बोले, 'मैं भी नाराज हूं, कहां चला जाऊं?'

भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने इस घटनाक्रम पर चुटकी लेते हुए कहा कि जब कोई पार्टी एक ही परिवार तक सीमित होती है तो उसका यही हाल होता है. देश की ऐसी जितनी भी पार्टियां हैं, सबका यही अंजाम हुआ है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 8:52 PM IST
शिवपाल ने किया मोर्चा का ऐलान: अखिलेश बोले, 'मैं भी नाराज हूं, कहां चला जाऊं?'
सपा प्रमुख अखिलेश यादव (File Photo)
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 29, 2018, 8:52 PM IST
समाजवादी पार्टी (सपा) में हाशिये पर चल रहे पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने बुधवार को आखिरकार अपनी राहें अलग करने के संकेत देते हुए ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चा' के गठन का औपचारिक ऐलान कर दिया. शिवपाल के ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चा' पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘‘मैं भी नाराज हूं, मैं कहां चला जाऊं."

अखिलेश ने मीडिया से बातचीत में शिवपाल के मोर्चा गठित किए जाने के बारे में पूछे जाने पर कोई साफ जवाब ना देते हुए कहा "मैं भी नाराज हूं, मैं कहां चला जाऊं. जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आएगा, आप और भी चीजें होती हुई देखेंगे."

इस सवाल पर कि क्या शिवपाल के मोर्चा गठित करने के पीछे भाजपा की साजिश है, सपा अध्यक्ष ने कहा "इसके पीछे भाजपा है, ऐसा मैं नहीं कहता, पर आज और कल की बात को देख लें तो शक तो जाएगा ही. सपा आगे बढ़ेगी, चाहे जो भी हो."

भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने इस घटनाक्रम पर चुटकी लेते हुए कहा कि जब कोई पार्टी एक ही परिवार तक सीमित होती है तो उसका यही हाल होता है. देश की ऐसी जितनी भी पार्टियां हैं, सबका यही अंजाम हुआ है.

शिवपाल ने मोर्चे के गठन का ऐलान सपा से निष्कासित राज्यसभा सदस्य अमर सिंह के उस बयान के एक दिन बाद किया है, जिसमें उन्होंने शिवपाल और भाजपा के शीर्ष नेताओं के बीच बैठक तय कराने के बावजूद ऐन वक्त पर शिवपाल के नहीं पहुंचने का दावा किया था.

भाजपा से अपने सम्बन्धों के बारे में शिवपाल ने कहा कि उनके भाजपा या किसी अन्य दल में शामिल होने की अटकलें लगायी जा रही हैं, मगर इनमें कोई सचाई नहीं है.

बता दें, प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने मंगलवार को शिवपाल से उनके आवास पर मुलाकात की थी, लेकिन दोनों ने ही इसे व्यक्तिगत बताया था.
Loading...
देखिए किस कांग्रेसी नेता के साथ इजरायल दौरे पर गई थीं पंखुड़ी पाठक


गौरतलब है कि सितम्बर 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को उस वक्त सपा मुखिया रहे मुलायम सिंह यादव ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर शिवपाल को नियुक्त कर दिया था. उसके बाद से ही अखिलेश और शिवपाल के बीच तल्खी पैदा हो गई थी. (एजेंसी इनपुट के साथ)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर