लाइव टीवी

मोदी-योगी के खिलाफ अखिलेश का पोल-खोल प्लान, सोशल मीडिया पर आक्रामक होगा कैंपेन
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 31, 2019, 12:15 PM IST
मोदी-योगी के खिलाफ अखिलेश का पोल-खोल प्लान, सोशल मीडिया पर आक्रामक होगा कैंपेन
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

समाजवादी पार्टी ने इसकी शुरुआत बुधवार को अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो ट्वीट कर किया है. इस वीडियो का शीर्षक है 'सामंतवादी कूटनीति-पार्ट एक'.

  • Share this:
बसपा से गठबंधन के बाद समाजवादी पार्टी बीजेपी के वादाखिलाफी के खिलाफ सोशल मीडिया पर आक्रामक कैंपेन चलाने जा रही है. सपा मुखिया अखिलेश यादव सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बीजेपी सरकारों की पोल खोलने के लिए और आक्रामक अभियान शुरू करने का फैसला किया है. पार्टी सोशल मीडिया पर बीजेपी के खिलाफ वीडियो कैंपेंन शुरू करेगी.

राहुल गांधी के गढ़ अमेठी के दो युवाओं को Twitter पर फॉलो कर रहे हैं पीएम मोदी

समाजवादी पार्टी ने इसकी शुरुआत बुधवार को अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो ट्वीट कर किया है. इस वीडियो का शीर्षक है 'सामंतवादी कूटनीति-पार्ट एक'. अखिलेश यादव की तस्वीर के साथ यह वीडियो सपा प्रवक्ता नावेद सिद्दीकी की आवाज में निदा फाजली के शेर के साथ शुरू होता है 'मै हकीकत हूं, मुझे मेरी जुबां से सुनिए, हर तरफ आपका किस्सा है, चाहे जहां से सुनिए.'



 






सपा का कहना है कि वीडियो सीरीज में आरक्षण, महंगाई, जीएसटी, नोटबंदी, भ्रष्टाचार, महिलाओं पर अत्याचार से लेकर दूसरे मसलों पर बीजेपी सरकारों को घेरा जाएगा. इसके तहत हर दूसरे दिन एक वीडियो सोशल प्लेटफार्म पर शेयर किया जाएगा. पहले चरण में 50 ऐसे वीडियो तैयार किए गए हैं जिन्हें ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सएप पर साझा कर बीजेपी के खिलाफ माहौल तैयार किया जाएगा.

प्रियंका गांधी की एंट्री से बसपा बदल रही रणनीति, मायावती के चुनाव लड़ने पर सस्पेंस!

गठबंधन के तहत दलितों-पिछड़ों के हितों पर फोकस होगा

इतना ही नहीं इस वीडियो कैंपेन में इस बात पर ज्यादा जोर होगा कि गठबंधन के तहत एक दूसरे के कार्यकर्ताओं को भी जोड़ा जाए. इसके लिए वीडियो में दलितों और पिछड़ों के साझा हितों का भी ध्यान रखा जाएगा. इसलिए पार्टी दलितों-पिछड़ों दोनों को यह ठीक से समझाना चाह रही है कि कैसे मोदी-योगी सरकार अपने फैसलों से उन दोनों के ही हक पर डाका डाल रही है. सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर युवा सक्रिय हैं, इसलिए पार्टी को लगता है कि तार्किक तरीके से उन तक बात पहुंच गई तो वह उसे और बेहतर ढंग से कोर वोटरों तक नीचे पहुंचा सकेंगे. इससे बीजेपी के कोर वोट बैंक में सेंध लगाने से रोका जा सकेगा.

लोकसभा चुनावः राहुल गांधी के गढ़ में कांग्रेस को झटका, 13 सभासद BJP में शामिल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 31, 2019, 12:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading