आनंदीबेन पटेल 29 जुलाई को लेंगी यूपी के राज्यपाल की शपथ

बता दें कि वर्ष-2014 के शीर्ष 100 प्रभावशाली भारतीयों में उन्हें सूचीबद्ध किया गया है. वे गुजरात की राजनीति में "लौह महिला" के रूप में जानी जाती हैं. जनवरी 2017 में वे मध्यप्रदेश की राज्यपाल नियुक्त हुई थी. आनंदीबेन पटेल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की करीबी मानी जाती हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 9:26 AM IST
आनंदीबेन पटेल 29 जुलाई को लेंगी यूपी के राज्यपाल की शपथ
आनंदीबेन पटेल आज लेंगी यूपी के राज्यपाल की शपथ
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 27, 2019, 9:26 AM IST
गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता आनंदीबेन पटेल 29 जुलाई यानी सोमवार को उत्तर प्रदेश की नए राज्यपाल के तौर पर शपथ लेंगी. जानकारी के मुताबिक आनंदीबेन पटेल दोपहर 12:00 बजे लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पहुंचेंगी. एयरपोर्ट से सीधे 12:30 राजभवन पहुंचेंगी. जहां वो राज्यपाल के तौर पर शपथ लेंगी. इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा समेत सरकार के कई मंत्री शामिल होंगे.  इससे पहले राम नाईक यूपी के राज्यपाल पद पर थे. वहीं पूर्व राज्यपाल राम नाईक की विदाई उसी दिन लखनऊ एयपोर्ट पर 2:45 पर होगी.

कौन हैं आनंदीबेन पटेल

आनंदीबेन पटेल (जन्म: 21 नवम्बर 1941) एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं, जो मध्य प्रदेश की राज्यपाल तथा गुजरात की पहली महिला मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. वे 1998 से गुजरात की विधायक बनी थी. वे 1987 से भारतीय जनता पार्टी से जुड़ी हैं और गुजरात सरकार में सड़क और भवन निर्माण, राजस्व, शहरी विकास और शहरी आवास, आपदा प्रबंधन और वित्त आदि महत्वपूर्ण विभागों की काबीना मंत्री का दायित्व निभा चुकी हैं.

बता दें कि वर्ष-2014 के शीर्ष 100 प्रभावशाली भारतीयों में उन्हें सूचीबद्ध किया गया है. वे गुजरात की राजनीति में "लौह महिला" के रूप में जानी जाती हैं. जनवरी 2017 में वे मध्यप्रदेश की राज्यपाल नियुक्त हुई थी. आनंदीबेन पटेल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की करीबी मानी जाती हैं.

गुजरात में कई अहम पदों पर रहीं
1998 से 2014 तक मुख्यमंत्री बनने से पहले वह मोदी सरकार में कई विभागों में मंत्री रहीं. मुख्मंत्री बनने के बाद उनके कार्यकाल में का सबसे बड़ा विवाद पाटीदार आंदोलन से जुड़ा है.

 चुनाव लड़ने से किया था मना
Loading...

2017 में आनंदीबेन ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया था. इसके बाद वह 2018 में मध्य प्रदेश में राज्यपाल नियुक्त हुईं. इसके बाद उन्हें छत्तीसगढ़ राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार भी सौंपा गया. अब उन्हें यूपी का राज्यपाल नियुक्त कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें:

बचपन में पिता के साथ ठेले पर बेचता था सब्‍जी, अब 'जज' बनकर करेंगे समाजसेवा

फिरोजाबाद में भीषण सड़क हादसा, 4 लोगों की दर्दनाक मौत

चार्जिंग के साथ गाना सुनते समय मोबाइल में विस्फोट, युवक की मौत
First published: July 27, 2019, 9:18 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...