Home /News /uttar-pradesh /

Who is Aparna Yadav: राम मंदिर को चंदा, PM मोदी का प्रभाव और...,कौन हैं मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव

Who is Aparna Yadav: राम मंदिर को चंदा, PM मोदी का प्रभाव और...,कौन हैं मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव

Aparna Yadav Profile: भाजपा में शामिल हुईं अपर्णा यादव

Aparna Yadav Profile: भाजपा में शामिल हुईं अपर्णा यादव

Who is Aparna Yadav (कौन हैं अपर्णा यादव) : उत्तर प्रदेश (UP Chunav 2022) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से ठीक पहले यूपी का सियासी पारा चढ़ गया है. समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को बड़ा झटका देते हुए मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) भाजपा में शामिल हो गई हैं. अपर्णा यादव (Aparna Yadav News) के रूप में भारतीय जनता पार्टी ने सपा प्रमुख के घर में बड़ी सेंधमारी की है और स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई नेताओं का बदला लिया है. अपर्णा यादव Aparna Yadav Joins BJP) मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं जो ठाकुर-बिष्ट बैकग्राउंड से आती हैं. माना जा रहा है कि वह लखनऊ कैंट सीट से ही चुनाव लड़ सकती हैं.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (UP Chunav 2022) में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से ठीक पहले यूपी का सियासी पारा चढ़ गया है. समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को बड़ा झटका देते हुए मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav Live News) भाजपा में शामिल हो गई हैं. अपर्णा यादव (Aparna Yadav) के रूप में भारतीय जनता पार्टी ने सपा प्रमुख के घर में बड़ी सेंधमारी की है और स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई नेताओं का बदला लिया है. अपर्णा यादव Aparna Yadav Joins BJP) मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं जो ठाकुर-बिष्ट बैकग्राउंड से आती हैं. माना जा रहा है कि वह लखनऊ कैंट सीट से ही चुनाव लड़ सकती हैं.

दरअसल, अपर्णा यादव (Aparna Yadav Joins BJP) 2017 के विधानसभा चुनाव में लखनऊ कैंट सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ चुकी हैं, मगर उन्हें भाजपा नेता रीता बहुगुणा जोशी के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. इस बार रीता बहुगुणा जोशी ने अपने बेटे के लिए लखनऊ सीट से दावेदारी दी है. अपर्णा यादव कई मौकों पर खुलकर पीएम मोदी और सीएम योगी की तारीफ कर चुकी हैं. इतना ही नहीं, अपर्णा पीएम मोदी और उनकी कई योजनाओं से प्रभावित रही हैं. सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान भी अपर्णा ने पार्टी लाइन से हटकर मोदी सरकार की तारीफ की थी.

कहां से पढ़ी हैं अपर्णा
अपर्णा एक राजनेता होने के अलावा एक प्रशिक्षित और योग्य क्लासिकल सिंगर भी हैं. उन्होंने लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की है और मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी, यूके से इंटरनेशनल रिलेशन और पॉलिटिक्स में मास्टर डिग्री प्राप्त की है. अपर्णा यादव एनिमल लवर भी हैं. अपर्णा एक एनजीओ ‘बी अवेयर’ चलाती हैं, जो पशु कल्याण के लिए काम करती है. वह कान्हा गौशाला भी चलाती हैं. वह महिला सुरक्षा और महिलाओं के खिलाफ अपराधों से जुड़े मुद्दों पर भी काम करती रही हैं. उनके पति प्रतीक यादव राजनीति से जहां दूर रहते हैं, वहीं अपर्णा ने 2017 में ही राजनीतिक एंट्री मारी थी.

राम मंदिर के लिए चंदा
अपर्णा यादव इससे पहले कई मौकों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ कर चुकी हैं. उन्हें योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा वाई श्रेणी का सुरक्षा कवर भी प्रदान किया गया था. इतना ही नहीं, वह अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए 11 लाख 11 हजार रुपए का चंदा भी दे चुकी हैं. राजनीतिक पंडितों का कहना है कि जब से अखिलेस यादव सपा मुखिया बने हैं, तब से अपर्णा यादव समाजवादी पार्टी से कटी-कटी रहती थीं. यही वजह है कि आज जब अपर्णा यादव ने भाजपा का दामन थामा तो उन्होंने पीएम मोदी की तारीख की.

भाजपा में शामिल होने के बाद अपर्णा ने क्या कहा
भाजपा में शामिल होने के बाद अपर्णा यादव ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी जी का और राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का धन्यवाद करती हूं. उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और अनिल बलूनी जी का धन्यवाद करती हूं. मैं प्रधानमंत्री जी से पहले से ही प्रभावित रहती थी, मेरे लिए सर्वप्रथम राष्ट्र है. अब मैं राष्ट्र की अराधना के लिए निकली हूं. आपका सहयोग अनिवार्य है. यही कहूंगी कि जो भी कर सकूंगी अपनी क्षमता से करूंगी.

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर