Home /News /uttar-pradesh /

UP Assembly Election: बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए अखिलेश यादव ने एक और छोटी पार्टी को जोड़ा अपने साथ, जानिए कौन

UP Assembly Election: बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए अखिलेश यादव ने एक और छोटी पार्टी को जोड़ा अपने साथ, जानिए कौन

अपना दल कमेरवादी गुट की कृष्णा पटेल ने सपा से गठबंधन का किया ऐलान

अपना दल कमेरवादी गुट की कृष्णा पटेल ने सपा से गठबंधन का किया ऐलान

UP Chunav 2022: अपना दाल कृष्णा गुट की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने कहा कि सीटों के बंटवारे के साथ ही गठबंधन पर सहमति बन चुकी है. जल्द ही इस संबंध में प्रेस कॉन्फरेंस कर इसका औपचारिक ऐलान कर दिया जाएगा. दरअसल, लगातार तीन चुनाव में हार का सामना कर चुके अखिलेश यादव इस बार कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते. यही वजह है कि इस बार वे पूर्वांचल से लेकर पश्चिम यूपी तक जातीय समीकरण साधने में जुटे हैं. वे गैर यादव पिछड़ा वोट बैंक साधने के लिए छोटे-छोटे दलों से गठबंधन कर रहे हैं. अपना दल और अपना दाल कृष्णा गुट का प्रयागराज से लेकर सोनभद्र तक असर है. जानकार बताते हैं कि कुर्मी वोट बैंक में सेंधमारी के लिए यह गठबंधन कारगार हो सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ. देश के सबसे बड़े सूबे यूपी से बीजेपी (BJP) को उखाड़ फेंकने के लिए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं. यही वजह है कि इस बार वे बड़े दलों को छोड़कर छोटेपार्टियों से गठबंधन करते हुए जातिगत समीकरण साध रहे हैं. इसी क्रम में जाटलैंड में राष्ट्रीय लोक दल के साथ सीट शेयरिंग फॉर्मूला तय करने के बाद अब केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की मां कृष्णा पटेल (Krishna Patel) और बहन पल्लवी पटेल गुट वाले अपना दल के साथ भी गठबंधन की गांठ तय कर दी है. अपना दल कृष्णा पटेल गुट ने इस बात का ऐलान भी कर दिया है.

    अपना दल कृष्णा गुट की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने कहा कि सीटों के बंटवारे के साथ ही गठबंधन पर सहमति बन चुकी है. जल्द ही इस संबंध में प्रेस कॉन्फरेंस कर इसका औपचारिक ऐलान कर दिया जाएगा. दरअसल, लगातार तीन चुनाव में हार का सामना कर चुके अखिलेश यादव इस बार कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते. यही वजह है कि इस बार वे पूर्वांचल से लेकर पश्चिम यूपी तक जातीय समीकरण साधने में जुटे हैं. वे गैर यादव पिछड़ा वोट बैंक साधने के लिए छोटे-छोटे दलों से गठबंधन कर रहे हैं. अपना दल और अपना दाल कृष्णा गुट का प्रयागराज से लेकर सोनभद्र तक असर है. जानकार बताते हैं कि कुर्मी वोट बैंक में सेंधमारी के लिए यह गठबंधन कारगार हो सकता है.

    आप सांसद संजय सिंह की भी हुई अखिलेश यादव से मुलाक़ात 
    उधर आम आदमी पार्टी के राज्य सभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने भी अखिलेश यादव से मुलाक़ात की है. जिसके बाद अटकलों का बाजार गर्म है. हालांकि संजय सिंह और समाजवादी पार्टी ने गठबंधन की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया है, संजय सिंह ने कहा कि यह शिष्टाचार मुलाक़ात थी, गठबंधन को लेकर जब बात होगी तो उसके बारे में बताया जायेगा.

    सपा ने कही ये बात
    सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन ने कहा कि हर मुलाक़ात गठबंधन के लिए नहीं होती। संजय सिंह बुधवार को लखनऊ स्थित ‘जनेश्वर ट्रस्ट’ के दफ्तर पहुंचे और वहां सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की. दोनों के बीच करीब एक घंटे तक मुलाकात चली. संजय सिंह और अखिलेश यादव के बीच हाल के दिनों में हुई ये तीसरी मुलाकात थी. इससे पहले सोमवार को मुलायम सिंह के जन्मदिन के मौके पर भी दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई थी. तब उन्होंने मुलायम सिंह को गुलदस्ता भेंट करते हुए अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘भारतीय राजनीति के पुरोधा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नेता जी माननीय मुलायम सिंह यादव जी को जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं. लखनऊ स्थित उनके आवास पर मुलाक़ात कर उनके दीर्घायु की कामना की.’

    Tags: Akhilesh yadav, Mother Krishna Patel, UP Assembly Election 2022, UP Assembly Election News, UP Assembly Elections, UP Assembly Elections 2022

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर