आर्टिकल 370 को लेकर कांग्रेस में घमासान जारी, अब इस नेता ने लगाए आरोप

आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अपने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर उंगली उठाई है. प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट कर इशारों इशारों में लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी पर निशाना साधा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2019, 9:48 PM IST
आर्टिकल 370 को लेकर कांग्रेस में घमासान जारी, अब इस नेता ने लगाए आरोप
कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं पर उठाई उंगली
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2019, 9:48 PM IST
जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल जब से सदन से पास हुआ है तब से कांग्रेस में विरोध के सुर फूटने लगे हैं. पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर बीजेपी के कदम की सहारना की थी अब एक और नेता ने बगावत के सुर बुलंद किए हैं. कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अपने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर उंगली उठाई है. प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट कर इशारों इशारों में लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी पर निशाना साधा है.

कृष्णम ने कहा 
कांग्रेस के 'इतिहास” का हर एक पन्ना 'बलिदान' और 'क़ुर्बानियों' की दास्तां से भरा पड़ा है, लेकिन पार्टी के कुछ बड़े नेता 'पाकिस्तान' की भाषा बोल कर, उस गौरव शाली 'इतिहास' को 'कलंकित' करना चाहते हैं.


ये था अधीर रंजन का विवादित बयान
दरअसल  मंगलवार को लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर चर्चा के दौरान कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जम्मू-कश्मीर को लेकर एक विवादास्पद बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि कश्मीर का मसला संयुक्त राष्ट्र (UN) में है और UN इसे मॉनिटर कर रहा है, तो इस मामले पर सरकार कैसे बिल बना सकती है.

गृहमंत्री ने ये दिया था जवाब
इसके जवाब में केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस को बताना चाहिए कि क्या कश्मीर को संयुक्त राष्ट्र मॉनिटर करे? अमित शाह ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, कश्मीर पर संसद ही सर्वोच्च है. कश्मीर को लेकर नियम-कानून और संविधान में बदलाव से कोई नहीं रोक सकता. जब मैं जम्मू कश्मीर कहता हूं तो उसमें पाक अधिकृत कश्मीर और अक्साई चीन भी शामिल है और दोनों भारत के अभिन्न अंग हैं.

ये भी पढ़ें:
Loading...

राम जन्मभूमि पर निर्मोही अखाड़ा का अधिकार नहीं: VHP

370 खत्म, एक्शन शुरू: 70 आतंकी, अलगाववादी कैदी आगरा शिफ्ट

 
First published: August 8, 2019, 9:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...