लाइव टीवी

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी असंवैधानिक: आराधना मिश्रा
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 21, 2020, 7:09 PM IST
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी असंवैधानिक: आराधना मिश्रा
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने गिरफ्तार किया

कांग्रेस ने सरकार पर साधा निशाना- कहा उत्तर-प्रदेश में बीते 2 माह में हुई 100 से अधिक हत्याओं के के आरोपियों को पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है और मजदूरों की मदद के लिए बस पहुंचाने गए कांग्रेस अध्यक्ष को गिरफ्तार करके जेल भेजा जाना लोकतंत्र के खिलाफ है. 50 हजार कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओ ने फेसबुक लाइव (Facebook Live) पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी का जमकर विरोध किया.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस (Congress) की बसों के संचालन को लेकर शुरु हुआ सियासी घमासान लगातार जारी है. गत मंगलवार को आगरा (Agra) में लाॅकडाउन उल्लंघन (Lockdown violation) के आरोप में गिरफ्तार किए गए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) को बुधवार को जमानत मिलते ही सरकार को फर्जी बसों की सूची भेजने के आरोप में लखनऊ पुलिस ने न सिर्फ दोबारा गिरफ्तार कर लिया बल्कि देर रात कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को लखनऊ लाकर उन्हें 14 दिन की रिमांड पर जेल भी भेज दिया गया. वहीं लखनऊ लौटे बस ड्राइवर्स ने भी अपनी आपबीती सुनाई कि उन्हें मदद का मौका नहीं मिला.


फेसबुक लाइव पर प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी का विरोध
आनन-फानन में की गई इस कार्यवाही से भड़के करीब 50 हजार कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओ ने आज फेसबुक लाइव (Facebook Live) पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी का जमकर विरोध किया. कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को असंवैधानिक ढंग से गिरफ्तार कर जेल भेजने और अब पार्टी कार्यकर्ताओं को उनसे मिलने तक न देने का आरोप लगाते हुए योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा.



प्रजातंत्र के खिलाफ है कार्यवाही
कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को जिस तरह से गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है वो पूरी तरह से असंवैधानिक, अलोकतान्त्रिक और प्रजातंत्र के खिलाफ है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कांग्रेस द्वारा श्रमिकों की मदद के लिए 1000 बस चलवाने की अनुमति मांगी थी. जिसकी सरकार से अनुमति मिलने के बाद ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू राजस्थान बार्डर पर खड़ी बसों को यूपी सरकार के अधिकारियों को हैंडओवर कराने आगरा गए थे लेकिन जब सरकार ने बसों को नोयडा-गाजियाबाद भेजने से रोक दिया तो उसका विरोध करने के चलते कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू के खिलाफ आगरा में लाॅकडाउन उल्लंघन और लखनऊ में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर दिया गया और फिर लखनऊ पुलिस ने आगरा जाकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. जबकि यूपी में इन दिनों रोजाना हो रही ताबड़तोड़ हत्याओं के चलते बीते 2 माह में हुई करीब 100 से अधिक हत्याओं के आरोपियों को पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है और मजदूरों की मदद के लिए बस पहुंचाने गए कांग्रेस अध्यक्ष को गिरफ्तार करके जेल भेजा जाना लोकतंत्र के खिलाफ है.



ये भी पढ़ें-COVID-19: बलरामपुर में होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वाले 1931 लोगों पर केस दर्ज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 7:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading