यूपी बीजेपी प्रवक्ता की गाड़ी चोरी, अरुण जेटली के रहे सांसद प्रतिनिधि

पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी में चोरों की तस्वीर कैद हुई. टवेरा में सवार होकर एक बदमाशों की शिनाख्त में पुलिस जुट गई है. पुलिस ने दावा किया है कि चोरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे है.

Kumarai ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 27, 2019, 1:38 PM IST
यूपी बीजेपी प्रवक्ता की गाड़ी चोरी, अरुण जेटली के रहे सांसद प्रतिनिधि
अरुण जेटली के सांसद प्रतिनिधि की गाड़ी चोरी
Kumarai ranjana | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 27, 2019, 1:38 PM IST
पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी (BJP) के वरिष्‍ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) के सांसद प्रतिनिधि और यूपी बीजेपी के प्रवक्ता हीरो वाजपेई की सफारी गाड़ी सोमवार देर रात लखनऊ स्थित आवास से चोरी हो गई. बताया जा रहा है कि घटना उस वक्त हुई हीरो वाजपेई अरुण जेटली के अंतिम संस्कार में शामिल होने के दिल्ली गए हुए थे. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस घर में लगे सीसीटीवी फुटेज को अपने कब्जे में लिया है.

सीसीटीवी में कैद हुई चोरों की तस्वीर 

पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी में चोरों की तस्वीर कैद हुई. टवेरा में सवार होकर एक बदमाशों की शिनाख्त में पुलिस जुट गई है. पुलिस ने दावा किया है कि चोरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे है. वहीं यूपी बीजेपी के प्रवक्ता हीरो वाजपेई ने गाड़ी चोरी होने की एफआईआर गोमती नगर थाने में दर्ज कराई है. लेकिन सबसे खास बात यह है कि गोमतीनगर थाने और बीजेपी प्रवक्ता हीरो वाजपेई के घर के बीच की दूरी 100 मीटर है. ऐसे में पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवाल खड़े होने लगे है.

मंत्रिमंडल में नहीं हुए थे शामिल

बता दें कुछ दिन पहले ही अरुण जेटली को सांस लेने में दिक्‍कत के कारण AIIMS में भर्ती कराया गया था. पिछले कुछ दिनों से उनकी स्थिति स्थिर बताई जा रही थी. बता दें कि जेटली काफी समय से एक के बाद एक बीमारी से लड़ रहे थे. इसी के चलते उन्‍होंने लोकसभा चुनाव, 2019 में बीजेपी को मिली प्रचंड जीत के बाद पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का आग्रह किया था.

कई मंत्रालयों की निभाई थी जिम्मेदारी

जेटली ने पत्र में लिखा था कि 18 महीने से मेरा स्‍वास्‍थ्‍य खराब चल रहा है. मैंने चुनाव प्रचार की सभी जिम्‍मेदारियों को निभाया. अब अपनी सेहत और इलाज पर ध्‍यान देना चाहता हूं. दरअसल, उन्‍हें अप्रैल, 2017 में एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां वह डायलसिस पर थे. इसके बाद 14 मई, 2018 को दिल्ली के एम्स में उनका किडनी ट्रांसप्‍लांट हुआ. उनकी गैरमौजूदगी में रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई थी. इसके बाद जेटली ने 23 अगस्त, 2018 को फिर वित्त मंत्रालय की जिम्‍मेदारी संभाल ली.
Loading...

ये भी पढ़ें:

मिड डे मील में नमक-रोटी परोसने पर NHRC ने UP सरकार को भेजा नोटिस

UPPCL अध्यक्ष को अभियंताओं की चेतावनी- वीडियो कांफ्रेंसिंग में जुबान संभाल के!

संसद की तरह अब यूपी विधानसभा भी होगी प्लास्टिक मुक्त

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 27, 2019, 1:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...